General Knowledge

जब आसमान से बरसा खून, जानिए केरल की 'लाल बारिश' का रहस्य.

जब आसमान से बरसा खून, जानिए केरल की लाल बारिश का रहस्य.
x

जब आसमान से बरसा खून , जानिए केरल की 'लाल बारिश' का रहस्य.

हमारे आसपास आज कल ऐसी प्राकृतिक घटनाये घटित होती रहती हैं जो हमें ये सोचने में मजबूर कर देती हैं की वाकई में प्रकृति में अनोखे चमत्कार होते हैं.

नई दिल्ली. हमारे आसपास आज कल ऐसी प्राकृतिक घटनाये घटित होती रहती हैं जो हमें ये सोचने में मजबूर कर देती हैं की वाकई में प्रकृति में अनोखे चमत्कार होते हैं. आज हम आपको 2001 में भारत के केरल में हुई खून जैसे लाल रंग की बारिश (blood red rain) के बारे में बताने जा रहें हैं.

जब होने लगी लाल रंग की बारिश

आज से 20 साल पहले यानी 25 जुलाई 2001 को केरल के इडुक्की और कोट्यम में अचानक आसमान से खून की बारिश (Bloody rain) होने लगी . स्थानीय लोग अचानक से खून देख के डर गए, लोग सोच में पड गए की आसमान से गिरने वाला यह खून किसका है, जो आसमान (Sky) से लगातार बरस रहा है ऐसा लग रहा था कि आसमान (Sky) में किसी का क़त्ल कर दिया गया हो .

इस घटना में अब तक कई रिसर्च हो चुके हैं, पहले वैज्ञानिकों ने इस खूनी बारिश (Bloody Rain) को आम बताया, जिसके पीछे पॉल्यूशन को जिम्मेदार माना गया था, एक और रिसर्च ने उल्का पिंड का असर बताया जोकि पानी के साथ धरती पर आ गया. लेकिन जब उस पानी की जांच की गयी तब दावा किया कि पानी का लाल रंग (Red color) उल्का और पॉल्यूशन के कारण नहीं बल्कि उस पानी में ऐसे जीवश्म का पाया जाना है जो कि इंसानी खून में होता है.लेकिन किसी भी रिपोर्ट में पुख्ता तौर पर ये दावा नहीं किया गया कि आखिर इस लाल रंग (Red Color) के पानी की वजह क्या थी. आज भी यह घटना वहां के लोगों के लिए एक पहेली सी बनी हुई है.

वहीँ ज्योतिष शास्त्र के जानकार लाल रंग (Red color) की इस बारिश को ग्रहों की असामान्य दशा में होने का कारण बता रहे, साथ ही कुछ वैज्ञानिकों का यह मानना था की यह खूनी बारिश (Bloody rain), पृथ्वी पर मानव सभय्ताओं के अंत होने का संकेत दे रहा. सच कुछ भी हो लेकिन यह आज भी एक रहस्य ही है. बताया जा रहा है की हमारे देश में पीले और हरे रंग की भी बारिश हो चुकी है.



Next Story