General Knowledge

Ration Card Online: राशन कार्ड बनवाना हुआ आसान, ऐसे करें आवेदन

Sandeep Tiwari
9 Oct 2021 6:33 PM GMT
Ration Card Online Getting ration card made easy apply like this
x
Ration Card Online: राशन कार्ड बनवाने ऐसे आप आवेदन कर सकते हैं।

MP Ration Card Online Application: मध्य प्रदेश सरकार (Madhya Pradesh) एवं केंद्र सरकार ने गरीबों को राशन उपलब्ध करवा रही है। ऐसे में हितग्राही को राशन कार्ड की आवश्यकता होती है। लेकिन कई हितग्राहियों के पास राशन कार्ड नहीं है। ऐसे में राशन कार्ड (Ration Card) बनवाने के लिए हितग्राही ऑनलाइन आवेदन (Online Application) कर अपना राशन कार्ड (Ration Card) बनवा सकते हैं।

राशन कार्ड बनवाने की प्रक्रिया

Ration Card Application Process: राशन कार्ड (Ration Card) बनवाने के लिए आवेदक को ऑफिशियल वेबसाइट पर जा कर होम पेज खोलना है। इसके पश्चात उसमें समग्र आईडी बनानी होगी और परिवार के प्रत्येक सदस्य का नाम भरना होगा। गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने वालों के लिए बीपीएल कार्ड बनाया जाता है। यह भी ऑफिशियल वेबसाइट पर एक अलग से लिंक दिखाई देगी जिस पर आवेदन करना होगा। वेबसाइट में खुले आवेदन फार्म की संपूर्ण जानकारी पूरी सावधानी के साथ भरनी होगी। इसके पश्चात आवेदन को बताए गए स्थान पर क्लिक करें जिसके पश्चात आवेदन विभाग के पास पहुंच जाएगा।

आवेदन की होगी जांच

आवेदन करने के पश्चात विभाग उसको स्वीकार कर लेगा। इसके पश्चात आवेदक द्वारा आवेदन में भरी गई जानकारी का सत्यापन विभागीय कर्मचारियों द्वारा करवाया जाएगा। इसके पश्चात ही आवेदक को बीपीएल कार्ड जारी किया जाता है। आवेदन में दी गई जानकारी असत्य एवं झूठी पाई जाने पर आवेदन को निरस्त कर दिया जाता है। साथ ही निरस्त होने की जानकारी आवेदक के आवेदन में भरे गए मोबाइल नंबर पर दी जाती है ।

बीपीएल कार्ड (BPL Card) के हैं कई फायदे

बीपीएल कार्ड (BPL Card) बनाने के पश्चात हितग्राही को खाद्यान्न तो पता ही है। साथ में अन्य सारी कई योजनाओं का लाभ भी प्राप्त होता है। सरकार द्वारा संचालित कई ऐसी योजनाएं हैं जिनका लाभ सिर्फ बीपीएल कार्ड धारक ही उठा सकता है।

बच्चों की पढ़ाई में छूट

बीपीएल कार्डधारक के बच्चों को निजी स्कूलों में भी छूट मिलती है। बिना किस जमा की है बच्चे निजी स्कूल में शिक्षा ग्रहण कर सकते हैं। यह सुविधा प्रदेश सरकार द्वारा गरीबों को निजी विद्यालयों में दी गई है।

Next Story
Share it