Delhi

Indian Railways: कैसे मिलती है कन्फर्म लोअर बर्थ? रेलवे ने बताया तरीका

Suyash Dubey
4 Nov 2021 12:44 PM GMT
Indian Railways How to get confirmed lower berth Railway told way
x
Indian Railways: कैसे मिलती है कन्फर्म लोअर बर्थ? आइये जानते हैं रेलवे द्वारा बताया गया तरीका..

Indian Railways: कौन नहीं चाहता की ट्रैन में लोवर बिर्थ में खिलड़ी के तरफ बैठ, प्रकृति की सुंदरता निहारते हुए सफर करे। लेकिन भैया ऐसा बड़े किस्मत वालो के साथ की होता है। चलिए छोड़ते हैं इस रोने को यहीं छोड़ते है और मुद्दे की बात पर आते हैं। दरअसल अक्‍सर देखा जाता है कि ट्रैन की टिकट बुकिंग करते वक्‍त लोवर बर्थ नहीं मिल पाता है, लेकिन आप अगर लोवर बर्थ कंफर्म करना चाहते हैं तो IRCTC के द्वारा बताए गए इस प्रोसेस को जानना चाहिए।

इंडियन रेलवे टेक्नोलॉजी के मामले में बोले तो एक दम मस्त है। बता दें भारतीय रेलवे ट्रेनों में सफर करने के दौरान सीनियर सिटिजंस को लोअर बर्थ के लिए ज्यादा प्राथमिकता देती है। लेकिन कई बार इसका उल्टा होता है और सीनियर सिटीजन को लोअर बर्थ में जगह नहीं मिल पाती है और कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

तो भैया कैसे लें लोअर बर्थ ?

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार भारतीय रेलवे (India Railway) ने जानकारी दी है कि अब कैसे आप लोवर बर्थ ले सकते हैं, इसके लिए परेशान होने की आवश्‍यकता नहीं है। ट्विटर पर आईआरसीटीसी द्वारा जानकारी दी गई है कि सीनियर सिटीजन को कैसे लोवर बर्थ दिया जाता है। यह जानकारी रेलवे ने यात्री के सवाल पर दी है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार ट्विटर पर एक यूजर ने भारतीय रेलवे से सवाल पूछा की आखिर कार लोअर बिर्थ क्यों नहीं दिया जाता है। यूजर ने रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव को भी टैग किया। और यह भी पुछा की भारतीय रेलवे का टिकट आवंटन का क्या नियम है।

यूजर ने बताया की उसने उसने तीन सीनियर सिटिजंस के लिए लोअर बर्थ प्रेफरेंस के साथ टिकट बुक की थीं, पर मिडिल बर्थ, अपर बर्थ और साइड लोअर बर्थ दी गईं।

इसका जवाब देते हुए इंडियन रेलवेज सेवा ट्वीट कर कहा की

''लोअर बर्थ/सीनियर नागरिक कोटा बर्थ केवल 60 वर्ष और उससे अधिक आयु के पुरुष और 45 वर्ष और उससे अधिक की महिला आयु के लिए निर्धारित निचली बर्थ हैं, जब अकेले या दो यात्रियों की यात्रा करते हैं (एक टिकट पर यात्रा करने वाले मानदंडों के तहत)। यदि दो से अधिक वरिष्ठ नागरिक हैं या एक वरिष्ठ नागरिक और अन्य यात्री नहीं है तो रेलवे का सिस्टम इस पर विचार नहीं करेगा। '' यानी कि दो सिनियर सिटीजन को लोवर बर्थ दिया जाएगा।

Next Story
Share it