Delhi

Viral Teacher: बच्चों की पसंदीदा बनी इंग्लिस टीचर मनु, छात्र एक भी दिन मिस नहीं करते स्कूल

Viral Teacher: बच्चों की पसंदीदा बनी इंग्लिस टीचर मनु, छात्र एक भी दिन मिस नहीं करते स्कूल
x
Delhi Viral Government Teacher Manu Gulati: इन दिनों दिल्ली की सरकारी टीचर मनु गुलाटी खूब वायरल हो रहीं हैं।

Delhi Viral Government Teacher Manu Gulati: वैसे तो हिन्दी स्कूलों में अंग्रेजी विषय की पढ़ाई करना बच्चों के लिए काफी मुश्किल भरा होता है। लेकिन ऐसे हालातों में कहा जाय कि एक ऐसी टीचर हैं जो अंग्रेजी विषय पढ़ाती हैं और बच्चे उनकी क्लास मिस नहीं करना चाहते हैं। बच्चे बडे ही चाव के साथ स्कूल जाते हैं और अपनी पसंदीदा टीचर खुशी-खुशी अंग्रेजी की पढ़ाई करते हैं। उनके पढाने का अंदाज कुछ ऐसा है कि वह बच्चे अनायास ही उनकी ओर खिचे चले आते हैं।

कौन हैं यह टीचर

सरकारी स्कूल की इन टीचर का नाम मनु गुलाटी (Manu Gulati) है। इनके पढाने का अंदाज देखने से पता चलता है कि वह केवल दिमाग से नहीं तहेदिल से बच्चों को शिक्षा दे रही है।

वायरल है एक वीडियो

सरकारी स्कूल की इन टीचर मनु गुलाटी का एक वीडियो वायरल है। जिसमें वह बच्चों के साथ डांस करती हुई नजर आ रही हैं। टीचर मनु का मानना है कि बच्चों को किताबी ज्ञान देने के साथ उनका मानोरंजन भी करना चाहिए।

इससे पढ़ाई का दबाव कम हो जाता है और बच्चों का पढ़ाई में मन लगता है। जब मन पढाई में लगने लगता है तो पढाई गई बातें दिमाग में गहराई तक जाती हैं। फिर बच्चे पढाई से भागने के बजाय मन लगाकर पढते हैं।

अमेरिकी राष्ट्रपति की पत्नी भी स्कूल में कर चुकी है विजिट

जिस सरकारी स्कूल की बात हम कर रहे हैं वहां वर्ष 2020 में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड टं्रप की पत्नी मेलनिया ट्रंप भी विजिट कर चुकी हैं। इन्होने बच्चों से तथा मनु गुलाटी से मिलकर काफी प्रभावित हुई थी। वह आज भी दिल्ली की इस स्कूल को अमेरिका में रहते हुए याद करती हैं।

मिलना तो आम बात है लेकिन मिलने के बाद याद रखना उससे कही बडी बात मानी गई है। बताते हैं कि एक वर्ष बाद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की पत्नी मेलनिया ट्रंप ने इन्ही अंग्रजी की टीचर मनु गुलाटी को टैग करते हुए लिखा था कि मनु गुलाटी प्लीज आप दिल्ली सरकारी स्कूल के बच्चों और फैकेल्टी को मेरा प्यार दीजिएगा।

कहने के तो बहुत सारे शिक्षक स्कूलों में तैनात है। लेकिन कुछ शिक्षक ऐसे होते हैं जिन्हे स्टाफ शायद न पसंद करे लेकिन उनके पढ़ाने का अंदाज बच्चो के लिए चहेता बना देता है।

Next Story