कोरोना

कोरोना की तीसरी लहर पर नीति आयोग; सितंबर से 4-5 लाख संक्रमित रोज मिल सकते हैं, इलाज के लिए 2 लाख ICU बेड तैयार रखें

Aaryan Puneet Dwivedi
23 Aug 2021 3:16 AM GMT
कोरोना की तीसरी लहर पर नीति आयोग; सितंबर से 4-5 लाख संक्रमित रोज मिल सकते हैं, इलाज के लिए 2 लाख ICU बेड तैयार रखें
x

कोरोना टेस्टिंग (फाइल फोटो) 

भारत में तीसरी लहर की आशंका के बीच नीति आयोग ने कोरोना को लेकर चेतावनी जारी की है. नीति आयोग के अनुसार सितंबर माह में तीसरी लहर आएगी और रोजाना 4 - 5 लाख नए संक्रमित मिलेंगे, इलाज के लिए अस्पतालों में 2 लाख ICU बेड की आवश्यकता होगी.

Third Wave of Corona: नई दिल्ली. एक बार फिर देश में कोरोना संक्रमण का विकराल रूप देखने को मिल सकता है. नीति आयोग (NITI Aayog) ने चेतावनी जारी की है कि तीसरी लहर में सितंबर माह से रोजाना देश भर में 4 से 5 लाख नए संक्रमण के मामले सामने आ सकते हैं. इसके लिए 2 लाख ICU बेड तैयार रखने होंगे.

नीति आयोग के अनुसार हर 100 मरीज में से 23 मरीजों को अस्पताल में भर्ती करना पड़ सकता है. ऐसी स्थिति में पहले से ही 2 लाख ICU बेड्स तैयार करने होंगे.

द इंडियन एक्‍सप्रेस की ए‍क रिपोर्ट के अनुसार, नीति आयोग ने कोरोना की दूसरी लहर के बाद बड़ी संख्या में अस्पताल में कोविड बेड अलग रखने की सिफारिश की है.

आयोग का कहना है कि खराब हालात से निपटने के लिए पहले से तैयार रहना होगा. सितंबर तक दो लाख आईसीयू बेड तैयार किए जाने चाहिए. इसके अलावा 1.2 लाख वेंटिलेटर वाले आईसीयू बेड, 7 लाख ऑक्सीजन वाले बेड और 10 लाख कोविड आइसोलेशन केयर बेड होने चाहिए.

नीति आयोग ने इससे पहले सितंबर 2020 में भी कोरोना की दूसरी लहर का अनुमान लगाया था. तब नीति आयोग ने 100 संक्रमितों में से गंभीर कोविड लक्षणों वाले लगभग 20 मरीजों को अस्पताल में भर्ती होने की आवश्यकता बताई गई थी. लेकिन इस बार अनुमान पिछली बार से अधिक है.

भारत में कोरोना संकट की मौजूदी स्थिति

भारत में लगातार 56 दिनों से 50,000 से कम दैनिक मामले सामने आ रहे हैं. रविवार को स्वास्थ्य मंत्रालय की रिपोर्ट के अनुसार, कोरोना के कुल 30,948 नए मामले सामने आए और 403 मौत हो गईं. कोविड के कारण मरने वालों की कुल संख्या 4 लाख 34 हजार 367 हो गई है.

Next Story
Share it