कोरोना

कोरोना इफेक्ट, नागपुर में नो एंट्री, पुलिस का सख्त पहरा

News Desk
15 March 2021 12:25 AM GMT
कोरोना इफेक्ट, नागपुर में नो एंट्री, पुलिस का सख्त पहरा
x
नागपुर। सोमवार से शुरू होने वाले सख्त बंद के कारण, किसी को भी 15 से 21 मार्च तक नागपुर में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। पुलिस आयुक्त अमितेश कुमार ने कहा कि नागपुर में हर ड्राइवर की जांच की जाएगी। सिविल लाइंस में पुलिस जिमखाना में तालाबंदी को लेकर अमितेश कुमार ने शनिवार को सभी वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों और पुलिस निरीक्षकों की बैठक की। उन्होंने उस समय ये निर्देश दिए थे। लॉकडाउन अवधि के दौरान, दवा स्टोर, प्रयोगशालाएं, अस्पताल, फल, सब्जी और किराना स्टोर संचालित होते रहेंगे। खरीदारी के बहाने नागरिकों को परिसर नहीं छोड़ना चाहिए। बेवजह कहीं भी घूमने वालों के खिलाफ आरोप दर्ज किया जाएगा।

नागपुर। सोमवार से शुरू होने वाले सख्त बंद के कारण, किसी को भी 15 से 21 मार्च तक नागपुर में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। पुलिस आयुक्त अमितेश कुमार ने कहा कि नागपुर में हर ड्राइवर की जांच की जाएगी। सिविल लाइंस में पुलिस जिमखाना में तालाबंदी को लेकर अमितेश कुमार ने शनिवार को सभी वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों और पुलिस निरीक्षकों की बैठक की। उन्होंने उस समय ये निर्देश दिए थे। लॉकडाउन अवधि के दौरान, दवा स्टोर, प्रयोगशालाएं, अस्पताल, फल, सब्जी और किराना स्टोर संचालित होते रहेंगे। खरीदारी के बहाने नागरिकों को परिसर नहीं छोड़ना चाहिए। बेवजह कहीं भी घूमने वालों के खिलाफ आरोप दर्ज किया जाएगा।

अमितेश कुमार ने नागरिकों से अपील की कि वे बिना जरूरी काम के बाहर न जाएं और अपना पहचान पत्र लेकर जाएं। वाइन शॉप से ​​केवल होम डिलीवरी ही उपलब्ध होगी। एक नियम के रूप में शराब की दुकान के कर्मचारी केवल दो स्थानों पर पहुंच सकते हैं। पुलिस यह भी दर्ज करेगी कि वह शराब किसके पास ले जा रहा है और उसने कितनी बोतलें मंगवाई हैं।

ढाई हजार पुलिस कर्मी शहर में तैनात

बताया गया है कि 107 स्थानों पर नाकाबंदी बंद के दौरान ढाई हजार पुलिस कर्मी शहर भर में तैनात किए जाएंगे। इसमें राज्य रिजर्व पुलिस बल की दो इकाइयांए 500 होमगार्ड भी शामिल हैं। तालाबंदी के दौरान शहर के 107 स्थानों पर जाम लगाया जाएगा। रात में 74 स्थानों पर नाकेबंदी होगी। इसके अलावा 99 पुलिस वाहन शहर में गश्त करेंगे।

Next Story
Share it