छतरपुर

मध्य प्रदेश के छतरपुर में अस्पताल का स्टाफ गायब, गेट पर हुआ प्रसव

Sandeep Tiwari
21 Oct 2021 4:34 AM GMT
Charges of Rewas bank scam have been framed in the court, there is a case of embezzlement of Rs 16 crore 14 lakh
x
मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के छतरपुर में अस्पताल का स्टाफ गायब होने के कारन गेट पर ही गर्भवती महिला का प्रसव हो गया।

छतरपुर (Chhatarpur) प्रदेश सरकार सुरक्षित प्रसव को बढ़ावा देने की दिशा में हर संभव प्रयास कर रही है। गर्भवती महिलाओं को अस्पताल में प्रसव करवाने तथा इसके पूर्व नियमित जांच करने जागरूक किया जा रहा है। लेकिन हालत यह है कि प्रसव के लिए अस्पताल पहुंचने के बाद भी प्रसूता को चिकित्सा की सुविधा नहीं मिल पा रही है। ऐसा ही एक मामला छतरपुर जिला चिकित्सालय का सामने आया है। जहां प्रसव के लिए गई महिला को डॉक्टर न मिलने से अस्पताल के गेट के पास ही प्रसव हो गया। गनीमत या रही की जच्चा और बच्चा दोनों सुरक्षित हैं।

जिला अस्पताल का मामला

मिली जानकारी के अनुसार भगवंतपुरा निवासी चतुर्भुज यादव मंगलवार की रात करीब 3ः00 बजे अपनी पत्नी को लेकर जिला चिकित्सालय पहुंचे। पेट में दर्द होने से वाह कराह रही थी। चेयर पर बैठा कर पति महिला को एडमिट करने के लिए डॉक्टरों को खोजने लगा। लेकिन किसी का पता नहीं चला और अस्पताल पहुंचने के आधे घंटे पश्चात महिला का प्रसव हो गया। महिला ने एक स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया।

बाद में पहुंची नर्स

चतुर्भुज यादव का कहना है कि प्रसव के बाद नर्स पहुंची और प्रसूता को वार्ड में ले गई। उनका कहना था कि अस्पताल में इस तरह सेल लापरवाही पूर्ण कार्य किए जाते हैं। शिकायत के बाद भी कोई ध्यान देने वाला नहीं है इसी का परिणाम है कि अस्पताल पहुंचने के बाद भी उनकी पत्नी का प्रसव गेट पर हुआ।

रात में गायब हो जाते हैं चिकित्सक

जिला चिकित्सालय की हालत यह है कि रात के समय अक्सर डॉक्टर गायब हो जाते रहते हैं। नर्सों के भरोसे अस्पताल का संचालन किया जा रहा है। अस्पताल में भर्ती अन्य लोगों का भी यही कहना है।

Next Story
Share it