vindhyacoronabulletin/neeraj pathak .jpg

Chhatarpur : घर के बेडरूम में पड़ा मिला डाक्टर का शव

RewaRiyasat.Com
Saroj Kumar Tiwari
02 May 2021

छतरपुर। जिले के वरिष्ठ चिकित्सक डा. नीरज पाठक का शव संदिग्ध परिस्थितियों में शहर के पाॅश एरिया में शामिल लोकनाथपुरम स्थित निवास पर बेडरूम में पड़ा मिला है। इसकी सूचना डाक्टर की पत्नी द्वारा सिविल लाइन थाना पुलिस को दी गई थी।  नीरज पाठक के शरीर में चोट के निशान होने पर हत्या की आशंका व्यक्त की जा रही है। डाक्टर पाठक और उनकी पत्नी के बीच करीब 11 साल से विवाद चल रहा हैए लेकिन वे एक ही मकान में रहते है। इस कारण प्रथम दृष्टया शक की सुई उन पर जा रही है।

जानकारी अनुसार जिला अस्पताल में लंबे समय तक पदस्थ रहे हृदयरोग विशेषज्ञ डा. नीरज पाठक का शव उनके लोकनाथपुरम स्थित आवास पर शनिवार सिविल लाइन पुलिस ने बरामद किया। सिविल लाइन थाना प्रभारी जगतपाल सिंह ने बताया कि डा. नीरज पाठक की पत्नी डा. ममता पाठक ने सिविल लाइन थाने में सूचना दी कि उनके पति का शव पलंग पर पड़ा है। मौके पर पहुंची पुलिस ने विवेचना शुरू की।

पत्नी ने कहा...

डा. ममता पाठक ने पुलिस को दिए अपने बयान में बताया कि उनके पति की करीब चार-पांच दिन से तबियत खराब थी। वे स्वयं डॉक्टर होने के कारण घर में ही अपना इलाज कर रहे थे। मैंने उन्हें जांच कराने को कहा था लेकिन वे नहीं गए और अस्वस्थ अवस्था में अपने कमरे में पड़े रहे। डा. ममता पाठक ने बताया कि उनकी भी तबियत खराब है इस कारण वे अपनी जांच व इलाज कराने दो दिन पहले झांसी गईं थीं। तब पति डा. नीरज पाठक घर में जिंदा थे। हालांकि इस बीच घरेलू विवाद की चर्चाएं भी गर्म हैं।

SIGN UP FOR A NEWSLETTER