छत्तीसगढ़

बढ़े खाद के दाम, 12 की डीएपी अब 19 सौ रुपये में, किसान परेशान छग मंत्री ने केन्द्रीय मंत्री को लिखा पत्र

Sandeep Tiwari
9 May 2021 7:56 PM GMT
बढ़े खाद के दाम, 12 की डीएपी अब 19 सौ रुपये में, किसान परेशान छग मंत्री ने केन्द्रीय मंत्री को लिखा पत्र
x
chhattisgarh Increased fertilizer prices छत्तीसगढ़ में रासायनिक खादों के दाम में बढ़ोतरी हो जाने से प्रदेश के किसान तथा सरकार दोनो चिंतित हैं।

रायपुर/ Raipur: छत्तीसगढ़ में रासायनिक खादों के दाम में बढ़ोतरी हो जाने से प्रदेश के किसान तथा सरकार दोनो चिंतित हैं। डीएपी खाद की कीमत अब 12 सौ रुपये से बढ़कर 19 सौ रुपये हो गई है। ऐसे में किसानों के सामने खेती को लेकर बहुत बड़ा संकट खड़ा हो गया है। खाद के दाम बढ़ जाने से इससे खेती की लागत बढ़ जाएगी। एक ओर सरकार किसानी के लाभ का धंधा बनाने की बात करती है तो वहीं समर्थन मूल्य में उपज पर मात्र 50 रूपये बढ़ाए जाते हैं और के खाद के दाम में 700 रूपये बढ़ा दिया गया है। जो किसानो के साथ अन्या है।

छग कृषि मंत्री ने लिखा पत्र

खादी कम्पनियों द्वारा डीएपी के दाम में बढ़ोत्तरी होने पर प्रदेश के कृषि मंत्री रविंद्र चैबे ने केंद्रीय रसायन एवं उर्वरक मंत्री को पत्र लिखा है। उन्होने उर्वरक कंपनियों की इस मनमानी पर रोक लगाने तथा मूल्य वृद्धि रोके जाने की मांग की है। उनका कहना था कि खाद के दाम बढाए जाने से किसानी प्रभावित होगी।

किसानों को इस कोरोना काल में राहत दिया जाना चाहिए। अगर खाद के दामों में कटौती नही की जाती तो किसान किसानी बंद करने पर मजबूर होगा। उन्होंने केंद्र सरकार से कोरोना संकटकाल में किसानों को राहत देने के लिए रासायनिक उर्वरकों के दामों में हुई वृद्धि को वापस लिए जाने का आग्रह किया है।

खरीफ सीजन में डीएपी खाद किसानों को 1150 रुपये प्रति बोरी की दर से व रबी 2021 में 1200 रुपये प्रति बोरी की दर से दी गई थी। अब यह खाद किसानों को लगभग 19 सौ रूपये प्रति बोरी देकर खरीदना होगा। सुपर फास्फेट के सभी प्रकार के खादों के दाम में प्रति बोरी लगभग 36 रुपये बढ़ाया गया है।

Next Story
Share it