छत्तीसगढ़

छतीसगढ: धड़क फिल्म से मिलती है इनकी प्रेम कहानी, फिर अचानक हुआ ये काण्ड

Aaryan Dwivedi
16 Feb 2021 5:58 AM GMT
छतीसगढ: धड़क फिल्म से मिलती है इनकी प्रेम कहानी, फिर अचानक हुआ ये काण्ड
x
Get Latest Hindi News, हिंदी न्यूज़, Hindi Samachar, Today News in Hindi, Breaking News, Hindi News - Rewa Riyasat
रायपुर. हाल ही में रिलीज हुई फिल्म धड़क में प्रेम संबंधों के खिलाफ ऑनर किलींग जैसी समस्या को दिखाया गया है, कि कैसे समाज में प्यार के खिलाफ ये जहर तेजी से फैल रहा है। धड़क फिल्म से मिलता-जुलता एेसा ही एक मामला छत्तीसगढ़ में सामने आया है, जहां ओडिशा के एक प्रेमी जोड़े ने साथ जीने-मरने की कसमें खाईं थीं। लेकिन प्रेमी जोड़े के परिवार वालों को इनका प्यार मंजूर नहीं था, एेसे में परिवार वालों के जिद के सामने प्रेमी जोड़े को घर छोडऩा पड़ा। यह प्रेमी जोड़ा घर छोड़कर सीधे रायपुर पहुंचा। जहां उन्होंने दोस्तों की मदद से किराए में एक घर लिया। इसके बाद प्रेमी ने फैक्ट्री में मजदूरी का काम ढूंढ लिया। प्रेमी को काम मिलने के बाद दोनों ने आर्य समाज में शादी कर ली। तीन दिन पहले फैक्ट्री से लौटते वक्त प्रेमी का कार सवार कुछ लोगों ने अपहरण कर लिया। प्रेमिका की शिकायत पर पुलिस ने अपहरण का मामला दर्ज कर लिया है और उसकी तलाश शुरू कर दी है। पुलिस के मुताबिक शंकर लाल मांझी (24) ओडिशा के नुआपाड़ा जिले के ग्राम गुलभा का रहने वाला है। उसे नुआपाड़ा की ही 20 वर्षीय रानी(परिवर्तित) नाम से प्रेम हो गया। दोनों ने शादी के लिए परिजनों से चर्चा की। दोनों के परिजन शादी के लिए राजी नहीं हुए। इसके बाद दोनों ने घर छोड़ दिया और भागकर रायपुर पहुंचे। रायपुर में शंकरलाल ने अपने दोस्तों की मदद से कबीर नगर इलाके सोनडोंगरी में किराए का मकान खरीदा और मजदूरी शुरू की। इसके बाद शंकर और रानी ने संजय नगर आर्य समाज मंदिर में शादी कर ली। शंकर रोज की तरह 31 जुलाई को सतीश रोलिंग मिल में काम करने गया था। रात करीब 8 बजे घर लौट रहा था। इस दौरान पहाड़ी तालाब महामाया मंदिर के पास उसके दोस्त गुटखा खरीदने के लिए रूके। वह भी उनके साथ खड़ा हो गया। इसी दौरान एक काले रंग की कार वहां पहुंची। और उसमें से दो युवक निकले। दोनों ने शंकर का कॉलर पकड़ा और उसे खींचकर कार में बैठा लिया। इसके बाद तेजी से गोगांव रोड की ओर भाग निकले। शंकर के साथ खड़े युवकों ने तत्काल उसकी पत्नी रानी को इसकी सूचना दी। और सभी उसकी तलाश में जुट गए हैं। उसकी पत्नी ने अपने परिजनों को सूचना दी। उसके परिजन ओडिशा से रायपुर पहुंचे। इसके बाद कबीर नगर थाने में घटना की सूचना दी। पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ अपहरण का मामला दर्ज कर उनकी तलाश शुरू कर दी है।
नाराज थे लड़के के परिजन
शंकर की पत्नी रानी ने बताया कि दोनों के घर छोडऩे और शादी करने से उसके परिवार वाले नाराज थे। लड़की के परिजनों को शादी से एतराज नहीं है। पीडि़ता ने आशंका जताई है कि अपहरण के मामले में उसके ससुराल वालों का हाथ है। पुलिस इस एंगल से भी जांच कर रही है।
सीसीटीवी कैमरों की जांच
पुलिस ने घटना स्थल और गोगांव मार्ग में लगे सीसीटीवी कैमरों की जांच शुरू कर दी है। और काले रंग के कार की तलाश की जा रही है। कार का नंबर कोई बता नहीं पाया है। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक कार में दो से अधिक लोग सवार थे। शंकर को बैठाते ही तेजी से कार फरार हुई है।
Next Story
Share it