बिज़नेस

Sukanya Samriddhi Yojana: सुकन्या समृद्धि योजना बेटियों के लिए बेहतर, खोले जाएंगे 57090 खाते

Viresh Singh Baghel
14 Jan 2022 8:12 AM GMT
There is good news for small businessmen you can take loan up to Rs 10 lakh sitting at home
x
Sukanya Samriddhi Yojana: सुकन्या समृद्धि योजना की सीधी में हुई समीक्षा बैठक.

Sukanya Samriddhi Yojana: बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओं अभियान के तहत पोस्ट ऑफिस द्वारा सुकन्या समृद्धि योजना लागू की गई है। इसकी समीक्षा बैठक कलेक्ट्रेट सभागार सीधी में आयोजित की गई।

बैठक में कलेक्टर मुजीर्बुरहमान खान ने कहा कि सुकन्या समृद्धि योजना में नवजात से लेकर 10 वर्ष तक की बेटीयो का पोस्ट ऑफिस में खाते खोले जा रहें है। केवल 250 रु. से खाते खोले जा रहें है। इस खाते में हर वर्ष अधिकतम एक लाख 50 हजार रु. जमा किये जा सकते हैं।

18 वर्ष बाद मिलेगे रूपये

खाताधारक बेटी का 18 साल के बाद विवाह होने अथवा खाता खोलने के 21 वर्ष में यह खाता मैच्योर होता है तब इसकी पूरी राशि बेटी को प्रदान की जाती है। इस योजना से सीधी जिले में माह फरवरी तक 57090- बेटियों के पोस्ट ऑफिस में खाते खोले जाएंगे।

दिया जाएगा लक्ष्य

जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास प्रत्येक परियोजना के निर्धारित लक्ष्य के अनुसार सुपरवाईजरों को खाता खोलने का लक्ष्य निर्धारित करें। पोस्ट ऑफिस से समन्वय करके लक्ष्य के अनुसार खाते खोलना सुनिश्चित करें जिले की 10 वर्ष तक की हर बेटी को सुकन्या समृद्धि योजना से लाभान्वित किया जायेगा।

दो बेटियों तक लाभ

बैठक में अधीक्षक डाकघर आरएस. चौहान ने सुकन्या समृद्धि योजना की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि नवजात से लेकर 10 वर्ष तक की बेटी के खाते इस योजना में खोले जा रहें है। केवल दो बेटियों तक ही इस योजना के लाभ की पात्रता है। बेटी के माता-पिता अथवा अभिभावक उसके खाते खोल सकते है।

250 रूपये करने होगे जमा

खाता खोलने के आवेदन पत्र के साथ 250 रु. जमा कराना अनिवार्य होगा। इसके बाद कोई भी रकम खाते में जमा करायी जा सकती है। खाता खोलने के बाद पासबुक दी जायेगी। खाते का संचालन बेटी के माता-पिता करेंगे। बेटी की उच्च शिक्षा के लिए खाते में जमा 50 प्रतिशत राशि प्राप्त की जा सकती है। इस खाते में अन्य बचत बैंक खाते की तुलना में अधिक ब्याज दी जा रही है। वर्तमान में 7.6 प्रतिशत दी जा रही है।

ये रहे मौजूद

बैठक में जिला कार्यक्रम अधिकारी रामचरण त्रिपाठी, परियोजना अधिकारी डॉ. शेषनारायण मिश्रा, माधवी सिंह, सहायक अधीक्षक डाकघर राकेश कुमार, पोस्टमास्टर एके पाठक, ओपी केवट, संजय सेन उपस्थित रहे।

Next Story
Share it