बिज़नेस

जल्द फुल करा लें अपनी गाड़ी की टंकी, 6 रूपए तक बढ़ने वाले हैं Petrol-Diesel के Rates

Aaryan Dwivedi
16 Feb 2021 6:37 AM GMT
जल्द फुल करा लें अपनी गाड़ी की टंकी, 6 रूपए तक बढ़ने वाले हैं Petrol-Diesel के Rates
x
केन्द्र सरकार द्वारा पेट्रोल-डीजल के दामों (Petrol Diesel Rates) में 6 रूपए तक की बढ़ोत्तरी की खबर आ रही है. यह बढ़ोत्तरी एक्साईज ड्यूटी बढ़ने

जल्द ही अपनी गाड़ी की टंकी फुल करा लें. क्योंकि फेस्टिव सीजन के दौरान Petrol-Diesel के Rates में आग लगने वाली है. केन्द्र सरकार द्वारा पेट्रोल-डीजल के दामों (Petrol Diesel Rates) में 6 रूपए तक की बढ़ोत्तरी की खबर आ रही है. यह बढ़ोत्तरी एक्साईज ड्यूटी बढ़ने की वजह से होगी.

बता दें मई 2020 में भी केन्द्र सरकार और राज्य सरकारों ने पेट्रोल-डीजल पर लगने वाले Excise Duty बढ़ाई थी. मई में पेट्रोल पर 10 रूपए प्रति लीटर एवं डीजल पर 6 रूपए प्रति लीटर तक की Excise Duty बढ़ाई गई थी.

Excise बढ़ाने की यह वजह

दरअसल, कोरोना महामारी के चलते देश भर की अर्थव्यवस्था डगमगा गई है. जिससे लड़ाई एवं संसाधनों की पूर्ति के लिए केन्द्र सरकार Petrol-Diesel पर एक्साइज ड्यूटी बढ़ाने पर विचार कर रही है.

Oppo F17 Pro Diwali edition स्मार्टफोन की बिक्री शुरू, कीमत, Specifications…

मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक कोरोना महामारी से ध्वस्त हो रही इकोनॉमी में जान फूंकने के लिए और हुए नुकसान की भरपाई के लिए केन्द्र को फंड की आवश्यकता है.

जल्द फुल करा लें अपनी गाड़ी की टंकी, 6 रूपए तक बढ़ने वाले हैं Petrol-Diesel के Rates

जल्द ही सरकार द्वारा एक और राहत पैकेज के ऐलान की भी खबर है, जिसके लिए भी फंड की आवश्यकता होगी. इस वजह से पेट्रोल-डीजल पर एक्साइज बढ़ाना सरकार की मजबूरी हो सकती है.

रिपोर्ट्स के मुताबिक, आम जनता पर इसका बोझ कम डालने के लिए कुछ ऐसे फॉर्मूले पर काम कर रही है, जिससे सरकार को अलग आमदनी हो जाए. माना जा रहा है कि कच्चे तेल के दाम गिरने के बाद जितना Petrol Diesel सस्ता होना चाहिए था. अब वो नहीं होगा. अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कच्चा तेल के Rates 45 डॉलर प्रति बैरल से गिरकर 40 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया है. सरकार इसका फायदा उठाना चाहती है.

1 रुपये ड्यूटी बढ़ने पर सरकार को इतना फायदा

Petrol और Diesel की एक्साइज ड्यूटी में हर एक रुपये की बढ़ोतरी से केंद्र सरकार के खजाने में 13,000-14,000 करोड़ रुपये सालाना की बढ़ोतरी होती है. असल में भारत अपनी जरूरतों का करीब 82 फीसदी क्रूड खरीदता है. ऐसे में क्रूड की कीमतें घटने से देश का करंट अकाउंट डेफिसिट (CAD) भी घट सकता है.

Top Fitness Bands Under 2500 रूपए, देखिये फुल लिस्ट

अब 32 रुपये टैक्स Petrol पर, Diesel पर 31 रुपये

फिलहाल जो पेट्रोल हम खरीदते हैं उसमें से केवल 31.83 रुपये प्रति लीटर टैक्स देते हैं. वहीं डीजल की प्रत्येक लीटर की खरीद पर 31.83 रुपये टैक्स लगता है. मई 2014 से पहले पेट्रोल पर कुल 9.48 रुपये प्रति लीटर टैक्स लगता था. वहीं, डीजल पर 3.56 रुपये प्रति लीटर टैक्स था. क्रूड के सस्ते होने का फायदा भी ग्राहकों को नहीं मिला है. इसके अलावा राज्य सरकारों ने भी अपनी तरफ से कमाई के लिए वैट भी बड़ा दिया है.

यहाँ क्लिक कर RewaRiyasat.Com Official Facebook Page Like

Next Story