बिज़नेस

Petrol-Diesel Price: फिर से बढ़ी पेट्रोल और डीजल की कीमतें, कच्चे तेल की कीमतों ने तोड़ा रिकॉर्ड

Petrol-Diesel Price: फिर से बढ़ी पेट्रोल और डीजल की कीमतें, कच्चे तेल की कीमतों ने तोड़ा रिकॉर्ड
x
Petrol-Diesel Price: पेट्रोल और डीजल की कीमतों पर सरकार बहुत लंबे अरसे से नियंत्रण नहीं रख रही लेकिन आजकल इनकी कीमतों पर सरकार का प्रभाव देखा जा सकता है।

Petrol-Diesel Price: पेट्रोल डीजल (Petrol-Diesel) के लगातार बढ़ते भाव ने लोगों की टेंशन बढ़ा रखी है, एक बार फिर से पेट्रोल डीजल की खुदरा कीमतों में इजाफा हुआ है। पेट्रोल डीजल के भाव बढ़ने (Petrol-Diesel Price Hike) के पीछे सबसे बड़ा कारण है कि इंडियन बास्केट (Indian Basket) का क्रूड आयल (Crude Oil) पिछले दिनों 10 साल के रिकॉर्ड भाव पर पहुंच गया जो कि था 121.28 डॉलर (9481.40/-) प्रति बैरल। ऐसा अनुमान है कि कच्चे तेल के भाव के बढ़ने के साथ-साथ भारत पैट्रोलियम, इंडियन ऑयल और हिंदुस्तान पैट्रोलियम जैसी सरकारी तेल विपणन कंपनी भी पेट्रोल और डीजल की कीमतें बढ़ा सकती हैं।

क्या है इंडियन बास्केट?

अगर आपको इंडियन बास्केट का अर्थ (What Is Indian Basket) समझ में ना आया हो, तो आपकी जानकारी के लिए आपको बता दें कि इसका मतलब ऐसा क्रूड आयल है, जो भारतीय रिफाइनरी में प्रोसेस किया जाता है। भारत अपनी जरूरत का 85 फ़ीसदी तेल विदेशों से आयात कर आता है।

6 अप्रैल के बाद से स्थिर है कीमतें

पेट्रोल और डीजल की कीमतों पर सरकार बहुत लंबे अरसे से नियंत्रण नहीं रख रही लेकिन आजकल इनकी कीमतों पर सरकार का प्रभाव देखा जा सकता है। तेल की कंपनियों की तरफ से 6 अप्रैल को आखिरी बार खुदरा तेल की कीमतें बढ़ाई गई थी उसके बाद से लागत तो बड़ी है लेकिन तेल महंगा नहीं किया गया।

क्या है दिल्ली का पेट्रोल डीजल का खुदरा भाव?

भारत की राजधानी दिल्ली में पेट्रोल 96.72 रुपए प्रति लीटर और डीजल 89.62 रुपए प्रति लीटर की कीमतों पर बिक रहा है। अप्रैल के महीने में इंडियन बास्केट के क्रूड ऑयल की कीमत थी 102.97 डॉलर (8049.97 रुपए) प्रति बैरल, जो पिछले दिनों बढ़कर 118.34 डॉलर प्रति बैरल के औसत स्तर पर पहुंच गई।

Next Story