बिज़नेस

मोदी सरकार दे रही है 'सस्ता सोना' खरीदने का सुनहरा मौका, जल्दी करें...

Aaryan Dwivedi
16 Feb 2021 6:29 AM GMT
मोदी सरकार दे रही है सस्ता सोना खरीदने का सुनहरा मौका, जल्दी करें...
x
मोदी सरकार द्वारा फिजिकल गोल्ड की डिमांड कम करने के लिए एक ख़ास स्कीम चलाई जा रही है. एक बार फिर इस योजना के तहत केंद्र सरकार सस्ता और सोना

मोदी सरकार द्वारा फिजिकल सोना की डिमांड कम करने के लिए एक ख़ास स्कीम चलाई जा रही है. इस स्कीम का नाम है 'सॉवरेन गोल्ड बांड (Sovereign Gold Bond Scheme)'. यह योजना कुछ सालों पहले केंद्र सरकार ने लांच की थी. एक बार फिर इस योजना के तहत केंद्र सरकार सस्ता और सुरक्षित सोना उपलब्ध करा रही है.

मोदी सरकार की इस योजना में सोने की कीमत RBI द्वारा तय की जाती है एवं केंद्र सरकार बांड के तौर पर सोना बेंचती है. रिज़र्व बैंक द्वारा समय समय पर सोना की कीमत तय की जाती है, जो बाजार के फिजिकल गोल्ड से काफी सस्ता एवं सुरक्षित होता है.

अगर आप का SBI बैंक में है खाता तो हो जाइये सावधान खाते से कट जा रहे पैसे..

आइए जानते हैं इस स्कीम के तहत मिल रहे सोने की नई कीमत के बारे में.

  • रिज़र्व बैंक द्वारा इस बार सॉवरेन गोल्ड बांड (Sovereign Gold Bond Scheme) में सोना की कीमत 5,117 रूपए प्रति ग्राम रखी गई है. इसमें डिजिटल भुगतान करने पर आपको 50 रूपए की एडिशनल छूट मिलेगी। ऐसे में निवेशकों के लिए बांड की कीमत 5,067 रुपये प्रति ग्राम होगी.
  • ये स्कीम 31 अगस्त को शुरू होगी एवं 4 सितम्बर को बंद हो जाएगी
  • गोल्ड खरीदने के लिए आपको अपने बैंक, बीएसई, एनएसई की वेबसाइट या डाकघर से संपर्क करना होगा।
  • इस स्कीम के तहत न्यूनतम एक ग्राम के सोने की खरीददारी की जा सकती है.
  • यह एक तरह का सिक्योर निवेश है क्योंकि न तो प्योरिटी की चिंता रहती है और न ही सिक्योरिटी का झंझट है.

आपको बता दें कि वित्त वर्ष 2019-20 में रिजर्व बैंक ने दस किस्तों में कुल 2,316.37 करोड़ रुपये यानी 6.13 टन के स्वर्ण बॉन्ड जारी किए. वहीं, कोरोना काल में लगातार 6 महीने से बॉन्ड जारी किया जा रहा है. कहने का मतलब ये है कि इस बार निवेश से चूक जाने पर आपको कुछ महीनों का इंतजार करना पड़ सकता है. बता दें कि सरकार के स्कीम लॉन्च करने का मकसद आयात और फिजिकल सोने के डिमांड में भी कमी करना था.

ATMANIRBHAR BHARAT के लिए सरकार का लक्ष्य DEFENCE MANUFACTURING को बढ़ाना है: MODI

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें: Facebook, Twitter
, WhatsApp, Telegram, Google News, Instagram
Next Story
Share it