import__export.jpg

April-February 2020-21: भारत के निर्यात-आयात में आई गिरावट, पढ़े पूरी रिपोर्ट

RewaRiyasat.Com
Ankit Neelam Dubey
04 Apr 2021

Ministry of Commerce and Industry के रिपोर्ट के अनुसार अप्रैल-फरवरी 2020-21 में भारत का समग्र निर्यात (व्यापारिक और संयुक्त सेवाएँ) 439.64 बिलियन अमरीकी डालर होने का अनुमान है, जो पिछले वर्ष भी यही अवधि के तुलना में (-)10.14 प्रतिशत नकारात्मक वृद्धि को प्रदर्शित करता है। 
अप्रैल-फरवरी 2020-21 में कुल मिलाकर आयातों का अनुमान USD 447.44 बिलियन है, पिछले वर्ष की इसी अवधि के तुलना में (-)20.83 प्रतिशत की नकारात्मक वृद्धि को प्रदर्शित करता है। 

फरवरी 2021 में आयात USD 40.54 बिलियन (रु 2,94,985.04 करोड़) है, जो कि फरवरी 2020 में USD 37.90 बिलियन था। डॉलर के संदर्भ में ये 6.96 प्रतिशत की वृद्धि है जबकि रुपये में 8.86 प्रतिशत की वृद्धि है।
आयात का संचयी मूल्य अप्रैल-फरवरी 2020-21 की अवधि के लिए USD 340.80 बिलियन (रु 25,24,727.09 करोड़) है जबकि अप्रैल-फरवरी 2019-20 की अवधि के दौरान USD 443.24 बिलियन (31,26,965.99 करोड़ रुपये) था।
TRADE BALANCE
Merchandise: फरवरी 2021 के लिए व्यापार घाटा 12.62 बिलियन अमरीकी डालर आंका गया है जो की फरवरी 2020 में व्यापार घाटे USD 10.16 बिलियन की तुलना में 24.14 प्रतिशत की वृद्धि है।
Services: 15 मार्च 2021 को आरबीआई की प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, व्यापार संतुलन जनवरी 2021 के लिए सेवाएं (यानी नेट सेवा निर्यात) USD 6.98 बिलियन है। अनुमानित व्यापार फरवरी 2021 में 6.94 बिलियन अमरीकी डॉलर है।
ओवरऑल व्यापार संतुलन: समग्र व्यापार (merchandise + services) अप्रैल-फरवरी 2020-21 में अनुमानित व्यापार घाटा USD 7.80 बिलियन है जबकि अप्रैल-फरवरी 2019-20 में USD 75.90 बिलियन का घाटा था। 

 

SIGN UP FOR A NEWSLETTER