भोपाल

KAMAL NATH को चुनाव अयोग ने थमाया नोटिस, "क्या आइटम है" बयान पर 48 घंटे के अंदर मांगा जवाब- MP News

Aaryan Dwivedi
16 Feb 2021 6:36 AM GMT
KAMAL NATH को चुनाव अयोग ने थमाया नोटिस, क्या आइटम है बयान पर 48 घंटे के अंदर मांगा जवाब- MP News
x
कमलनाथ को निर्वाचन आयोग ने एक नोटिस थमाया है। नोटिस में ‘क्या आइटम है‘ बयान पर 48 घंटे के अंदर जवाब देने की बात कही है।

KAMAL NATH को चुनाव अयोग ने थमाया नोटिस, "क्या आटइम है" बयान पर 48 घंटे के अंदर मांगा जवाब- MP News

भोपाल। कमलनाथ को निर्वाचन आयोग ने एक नोटिस थमाया है। नोटिस में ‘क्या आइटम है‘ बयान पर 48 घंटे के अंदर जवाब देने की बात कही है। बता दें कि प्रदेश के पूर्व सीएम कमलनाथ ने बीते दिनों डाबरा में कांग्रेस प्रत्याशी सुरेश राजे के पक्ष में एक सभा को सम्बोधित किए थे। इस दौरान उन्होंने प्रदेश की कैबिनेट मंत्री को लेकर ‘क्या आइटम है‘ जैसे बयान दिए थे।

कमलनाथ ने इस दौरान हंसते हुए भी नजर आए थे। कमलनाथ का यह बयान सामने आते ही भाजपा सहित कई गैर राजनीतिक पार्टियों ने भी इसका जमकर विरोध किया था। सभी ने कमलनाथ से सार्वनिक रूप से माफी मागने की बात कही थी। लेकिन कमलनाथ माफी मांगने को तैयार नहीं थे। कमलनाथ आइटम शब्द को उचित ठहराने के प्रयास में थे। बाद में कमलनाथ भारी विरोध के चलते बैकफुट पर आए और अपने बयान पर खेद प्रकट किया था।

मंत्री उषा ठाकुर का विवादित बयान, कहा मदरसे में तैयार किये जाते हैं आतंकवादी

अब कमलनाथ के इसी बयान पर चुनाव आयोग पूरी तरह से सख्त हो गया हैं। निर्वाचन आयोग ने कमलानाथ को एक नोटिस जारी किया है। जिसमें 48 घंटे के अंदर जवाब मांगा गया है। चुनाव आयोग ने स्पष्ट किया है कि कमलनाथ यह स्पष्ट करें कि ‘क्या आइटम है‘ जैसे शब्द इस्तेमाल उन्होंने क्यों किया। इसके पीछे उनकी क्या मंशा थी। वह जवाब दें।

क्या हो सकती है कार्रवाई

जानकारों की माने तो कमलनाथ द्वारा दिए गए जवाबों से अगर चुनाव आयोग संतुष्ट हो जाता है तो उनकी फाइल क्लोज कर दी जाएगी। अगर उनके जवाब से संतुष्ट नहीं होता है तो उनके चुनाव प्रचार अभिनय पर रोक लगाई जा सकती है। साथ ही अगर कमलनाथ इस बयान पर माफी मांग लेते है तो उन्हें चेतावनी देते हुए छोड़ा जा सकता है।

रीवा की बेटी ने कैसे परीक्षा में पा लिया वो मुकाम जिसके लिए वह करती रही परिश्रम..

Next Story
Share it