अनूपपुर

ANUPPUR: करोड़ो के अवैध ब्याज व्यापार का फूटा भंडा, 8 आरोपी गिरफ्तार, 115 पासबुक और 147 ब्लैंक चेक जब्त

Sandeep Tiwari
12 Sep 2021 3:53 PM GMT
Crores of illegal interest business busted, 8 accused arrested, 115 passbooks and 147 blank checks seized
x
मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के अनूपपुर (Anuppur) में करोड़ो के अवैध ब्याज व्यापार का भंडा पुलिस अलग-अलग इलाको में छापे मार कार्रवाई कर फोड़ा।

अनूपपुर जिले (Anuppur) के साथ ही असपास के इलाकें में ब्याज का अवैध व्यापार खूब फल-फूल रहा है। जिस पर लगाम लगाने के लिए पुलिस अधीक्षक ने विशेष अभियान चला रखा हैं। इसी का परिणाम है कि ब्याज का अवैध व्यापार करने वाले 8 आरोपी पुलिस की छापामार कार्रवई में पकडे गये है। वही तलाशी में 115 पासबुक तथ 147 ब्लैंक चेके साथ और भी कई दस्तावेज मिले हैं। पुलिस आरोपीयों से पूछताछ कर रही है।

150 पुलिसकर्मियों की विशेष टीम

सूदखोरी के अवैध करोबार को खत्म करने के लिए जिला पुलिस अधीक्षक द्वारा 150 पुलिकर्मियों की एक विशेष टीम बनाई है। लगातार हो रही कार्रवाई में सूदखोरों के नीद उडी हुई हैं। शनिवार को अनूपपुर जिले के बिजुरी, कोतमा, भालूमाड़ा थाना अंतर्गत सूदखोरी में शामिल आठ आरोपियों के ठिकानों पर छापामार कार्रवाई की गई।

यह हुआ बरामद

पुलिस टीम को कार्रवाई के दौरान 115 पासबुक, 147 हस्ताक्षर युक्त ब्लैंक चेक, 377 नग एलआइसी बाण्ड, 47 चेकबुक, 68 शपथ पत्र, 51 आधार कार्ड, 30 ब्लैंक चेक, 28 एटीएम कार्ड, 22 पैनकार्ड, 12 स्टाम्प और 14 इकरार नामा सहित अन्य दस्तावेज मिले हैं।

ये आये पुलिस की गिरफ्त में

वही पुलिस की कार्रवाई में लियाकत अली, फलमती केवट हंसकुमार, चंचल सिंह, अनुज मिश्रा, दीपक नागवानी, सम्पति जैन, राजकुमार पाण्डेय,को हिरासत में लिया गया है। पुलिस पकडे गये आरोपियों से और जानकारी एकत्र करने में लगी है।

दो आरोपी फरार

दो आरोपी हरजीत और परवेज फरार हैं। जिनकी तलाश में पुलिस के जवान लगे हुए है। कई जगह छापा भी मारा गया लेकिन यह दोनो आरोपी गिरफ्त में नहीं आ रहे है। पुलिस का मामना है कि यह थाना क्षेत्र के बाहर निकल गये हैं। इस बात को ध्यान में रखते हुए जिले के सभी थाना के साथ ही आसपास के थानों में जानकारी भेजी गई है।

लगाया जायेगा शिविर

वही पुलिस अधीक्षक का कहना है कि जिले से सूदखोरी का व्यापार पूरी तरह खत्म करने के लिए यह अभियान चलता रहेगा। उनका कहना था कि इसे अभियान को और मजबूत करने के लिए जगह-जगह शिविर लगाए जायेंगें। जहां लोगो की शिकायत के बाद विधिवत कार्रवाई की जायेगी।

Next Story
Share it