विश्व

अब लड़के भी पहनेंगे स्कर्ट! जानिए क्या है #ClothesHaveNoGender मूवमेंट?

Know what is Clothes Have No Gender Movement
x
आइये जानते हैं #ClothesHaveNoGender मूवमेंट के बारे में।

हमारी दुनिया पुरुष प्रधान है, यह एक सच है जो किसी देश तक ही सीमित नही बल्की यह सर्वमान्य है। यह एक ऐसा विषय है जिसके लिए सारे विश्व में चर्चा होती है। हम मनुष्य हर एक वस्तु में भेदभाव करना जानते हैं और लिंग भेद का शिकार कपड़ों को सबसे अधिक बनाया गया है। कुछ वक्त पहले एक ऐसी घटना सामने आई जिसमें एक छात्र को स्कूल में स्कर्ट पहन कर आने की वजह से स्कूल से निकाल दिया गया।

"कपड़ों का कोई जेंडर नहीं" के नाम से शुरू हुआ मूवमेंट

स्पेन के प्राइमरी स्कूल के प्रिंसिपल ने एक छात्र को स्कूल में स्कर्ट पहनकर आने की वजह से निकाल दिया था मगर जब इस दुनिया में बड़े-बड़े शासकों की नहीं चली तो प्रिंसिपल कौन है। स्पेन में इस प्रिंसिपल का खूब विरोध किया गया जिसके बाद उस प्रिंसिपल को अपना फैसला बदलना पड़ा और उसके बाद "क्लोथ्स हैव नो जेंडर" मॉम एंड मे जोर पकड़ा और ब्रिटेन व स्कॉटलैंड में भी इसका असर दिख रहा है।

स्कॉटलैंड के लड़के पहन रहे हैं स्कर्ट

2020 में शुरू हुई इस मूवमेंट का असर स्कॉटलैंड में सबसे अधिक देखने को मिल रहा है। स्कॉटलैंड के स्कूल ने अपने बच्चों को नया आदेश दिया है जिसके अनुसार लड़कों को भी समानता का उदाहरण दर्शाते हुए स्कूल में स्कर्ट पहन कर आना होगा। यह असमानता दूर करने की एक पहल है।

एडिनबर्ग के कैसलव्यू प्राइमरी स्कूल ने ये आदेश जारी किया है। इस स्कूल के बच्चे 'वियर ए स्कर्ट टू स्कूल' अभियान में भी हिस्सा ले चुके हैं। जो #ClothesHaveNoGender मूवमेंट का हिस्सा रहा है। इस आंदोलन को सोशल मीडिया पर भी भरपूर समर्थन मिल रहा है.

Next Story