कैंसर के बाद HIV का इलाज मिला, जानिए कैसे होगा इलाज
वैज्ञानिकों ने HIV/AIDS जैसी जानलेवा बीमारी का भी इलाज ढूंढ लिया है।
इजराइल की तेल अवीव यूनिवर्सिटी के रिसर्चर्स एक ऐसी वैक्सीन बनाने में कामयाब हुए हैं, जिसकी केवल एक खुराक से ही शरीर में वायरस को खत्म किया जा सकेगा।
एक्वायर्ड इम्यूनो डेफिशिएंसी सिंड्रोम 'AIDS' ह्यूमन इम्यूनो डेफिशिएंसी वायरस से होने वाली एक बीमारी है।
HIV एक यौन रोग है और मरीज के सीमेन, वजाइनल फ्लुइड और खून के संपर्क में आने से फैल सकता है।
वैज्ञानिकों ने जीन एडिटिंग टेक्नोलॉजी की मदद से इस वैक्सीन को बनाया है। फिलहाल इसका ट्रायल चूहों पर किया गया है।
वैक्सीन में टाइप बी वाइट ब्लड सेल्स का इस्तेमाल किया गया, इनसे इम्यून सिस्टम में HIV वायरस से लड़ने वाली एंटीबॉडीज विकसित होती हैं।
HIV बीमारी से जूझ रहे मरीजों का इम्यून सिस्टम बेहद कमजोर हो जाता है और अपने आप वायरस से लड़ने में सक्षम नहीं होता।
रिसर्चर्स का कहना है कि इस दवा से बनने वाली एंटीबॉडीज सुरक्षित और शक्तिशाली हैं।
CRISPR एक जीन एडिटिंग टेक्नोलॉजी है, जिसकी मदद से वायरस, बैक्टीरिया या इंसानों के सेल्स को जेनेटिकली बदला जा सकता है।
ज्ञानिकों ने जीन एडिटिंग टेक्नोलॉजी CRISPR की मदद से इनमें बदलाव करना शुरू कर दिया है।
Author : Akash dubey