Uttar Pradesh में अब तक का सबसे बड़ा कांड, हिस्ट्री शीटर को पकड़ने गई पुलिस टीम पर फायरिंग, DSP समेत 8 पुलिसकर्मियों की मौत

Uttar Pradesh में अब तक का सबसे बड़ा कांड, हिस्ट्री शीटर को पकड़ने गई पुलिस टीम पर फायरिंग, DSP समेत 8 पुलिसकर्मियों की मौत

उत्तर प्रदेश राष्ट्रीय/अंतर्राष्ट्रीय

Uttar Pradesh में अब तक का सबसे बड़ा कांड, हिस्ट्री शीटर को पकड़ने गई पुलिस टीम पर फायरिंग, DSP समेत 8 पुलिसकर्मियों की मौत

Uttar Pradesh जहां अपराधियों का आतंक माना जाता था लेकिन योगी सरकार बनने के बाद से ही सभी हिस्ट्री शीटर खुद को सरेंडर कर दिए या मारे गए. योगी सरकार ने अपराधियों की हिस्ट्री बनाकर उन्हें ढूढ-ढूढ कर मारा। आपको बता दे की रात करीब 1 बजे उत्तरप्रदेश के कानपुर में गुरुवार को दबिश देने गई पुलिस टीम पर बदमाशों ने अंधाधुंध गोलियां चलाईं। इसमें सर्कल ऑफिसर (DSP) और 3 सब इंस्पेक्टर समेत 8 पुलिसकर्मियों की मौत हो गई है।

संघ कर रहा है आर्थिक, स्वास्थ्य व पारिवारिक परामर्श का प्रबन्ध, चीनी वस्तुओं के बहिष्कार का संकल्प

बताया जा रहा है कि पुलिस बिठूर थाना इलाके के एक गांव में हिस्ट्री शीटर विकास दुबे को पकड़ने गई थी, लेकिन उसकी गैंग ने पुलिस पर घात लगाकर छत से हमला किया और विकास दुबे फरार हो गया। बदमाश पुलिस के कई हथियार भी लूट ले गए। उधर, पुलिस ने बताया कि घटना के बाद एनकाउंटर में विकास दुबे के 3 साथियों को मार गिराया गया है।

अब 2036 तक रूस के राष्ट्रपति रहेंगे Vladimir Putin, संविधान संशोधन को मिली मंजूरी

अपराधी के ऊपर है हत्या का मुकदमा 

डीजीपी एचसी अवस्थी ने बताया कि विकास दुबे के खिलाफ कानपुर के राहुल तिवारी ने हत्या के प्रयास का केस दर्ज कराया था। इसके बाद पुलिस उसे पकड़ने के लिए बिकरू गांव गई थी। पुलिस को रोकने के लिए बदमाशों ने पहले से ही जेसीबी वगैरह से रास्ता रोक रखा था। अचानक छत से फायरिंग शुरू कर दी गई। वहीं, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एसटीएफ की टीम को कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। पुलिस ने यूपी के सभी बॉर्डर सील कर दिए हैं।

क्या आपका आधार कार्ड खो गया लेकिन फ़ोन नंबर UIDAI के साथ पंजीकृत नहीं है? यहां बताया गया है कि कैसे आप रीप्रिंट प्राप्त कर सकते हैं

ये पुलिसकर्मी मारे गए 

डीएसपी बिल्हौर देवेंद्र मिश्र, एसआई अनूप कुमार सिंह, एसआई नेवूलाल, एसओ महेश चंद्र यादव, कॉन्स्टेबल सुल्तान सिंह, कॉन्स्टेबल राहुल, कॉन्स्टेबल जितेंद्र और कॉन्स्टेबल बबलू की मौत हो गई है। इसके अलावा बिठूर थाना प्रभारी कौशलेंद्र प्रताप सिंह समेत 7 पुलिसकर्मियों को गोली लगी है। इनका इलाज रीजेंसी हॉस्पिटल में चल रहा है।

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें:  FacebookTwitterWhatsAppTelegramGoogle NewsInstagram

Facebook Comments