सावधान ! नौकरी और कोरोना वैक्सीन देने के नाम पर आ रहे फर्जी कॉल

टेक एंड गैजेट्स राष्ट्रीय/अंतर्राष्ट्रीय

सावधान! नौकरी और कोरोना वैक्सीन देने के नाम पर आ रहे फर्जी कॉल

यदि के मोबाइल में फोन काॅल अथवा वाट्सएप मैसेज के माध्यम से किसी प्रकार की लुभावनी बात हो तो उससे सावधान रहें अन्यथा आप बहुत बड़ा धोखा खा जाएंगे। नौकरी देने या कोरोना वैक्सीन देने के नाम पर आने वाले संदेशों से सचेत रहने की आवश्यकता है। साइबर अपराधियों ने लोगों के बैंक खाते में जमा पैसों को उड़ाने का यह नया तरीका निकाला है। साइबर अपराधी लोगों को इस तरह का काॅल या मैसेज कर उनसे ओटीपी मांगते हैं या फिर लिंक भेज कर उस पर क्लिक करने को कहते हैं। ऐसा करते ही आपके बैंक खाते में उनकी सेंधमारी हो जाती है और वे आसानी से बैंक खाते से पैसे निकाल लेते हैं।

साइबर अपराधी वर्तमान स्थिति व लोगों की जरूरतों को देखते हुए अपनी प्लानिंग कर रहे हैं, उन्हें पता है कि अभी लोगों की आवश्यकता रोजगार और कोरोना वैक्सीन है। ऐसे में इस नाम पर ठगी करना उनके लिये आसान है। लोगों की नासमझी ही उनके अपराध को बढ़ावा देता है।

सावधान! नौकरी और कोरोना वैक्सीन देने के नाम पर आ रहे फर्जी कॉल
सावधान! नौकरी और कोरोना वैक्सीन देने के नाम पर आ रहे फर्जी कॉल

AMAZON DEALS – UPTO 80% OFF

व्हाटसएप समेत तमाम सोशल मीडिया प्लेटफाॅर्म पर नौकरी देने के नाम पर मैसेज भेजा जाता है। इसमें हर रोज 200 से 3000 रुपये कमाने तक का आफर दिया जाता है। इसके साथ ही मैसेज में नौकरी पाने के लिये लिंक पर क्लिक करने को कहा जाता है। क्लिक करते ही गोपनीय डाटा व बैंक खाते की जानकारी साइबर अपराधियों तक पहुंच जाती है और वे खाते में जमा पैसे उड़ा लेते हैं। इस विषय पर राज्य सरकार की आर्थिक अपराध इकाई ने लोगों को जागरूक किया है। लोगों को सचेत किया जा रहा है कि किसी प्रकार की नौकरी देने के प्रलोभन में न फंसे, किसी भी अनजान सोर्स से अाने वाले मैसेज या उसके लिंक पर न जाएं। समझदारी के साथ ही साइबर ठगों को मात दिया जा सकता है।

यह भी पढ़े : COVID-19 New Strain : ब्रिटेन से भोपाल और इंदौर आए 3 व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव

कोरोना रजिस्ट्रेशन का आ रहा ऑफर

सोशल मीडिया पर कोरोना वैक्सीन के रजिस्ट्रेशन के नाम पर साइबर क्राइम के मामले देश भर में आने लगे हैं। साइबर अपराधी इसमें दो तरह के रास्ते अपना रहे हैं।पहला लोगों को सोशल मीडिया पर मैसेज भेज कर उनसे कोरोना वैक्सीन दिलाने के लिये रजिस्ट्रेशन कराने को कहा जा रहा है। मैसेज पर एक लिंक भेजा जाता है।

इस लिंक को क्लिक करते ही मोबाइल नंबर से जुड़े बैंक खाते की जानकारी अपराधियों तक पहुंच जाती है और वे पैसे उड़ा लेते हैं। दूसरा तरीका यह है कि रजिस्ट्रेशन के नाम पर काॅल आता है। अपराधी वैक्सीन देने के लिये रजिस्ट्रेशन की बात कहते हैं और फिर बातों में ही उलझा लेते हैं। इस दौरान लोगों के मोबाइल पर भेजे गये ओटीपी की जानकारी हासिल कर खाते से पैसे उड़ा लेते हैं।

कोरोना के चलते स्थगित हुआ मध्यप्रदेश का विधानसभा सत्र, सर्वदलीय बैठक में लिया गया निर्णय

Nokia 5.4 QUAD रियर कैमरा के साथ लॉन्च किया गया: देखे कीमत, specifications

Oppo A15s ट्रिपल रियर कैमरा के साथ भारत में लॉन्च: कीमत, specifications

यहाँ क्लिक कर RewaRiyasat.Com Official Facebook Page Like

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें:

Facebook | WhatsApp | Instagram | Twitter | Telegram | Google News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *