RBI ने जारी की चेतावनी, आपके मोबाइल में भी है ये App, फ़ौरन करें डिलीट नहीं तो खाली हो जाएगा खाता

National Tech & Gadgets
  • 111
    Shares

मल्टीमीडिया डेस्क। ऑनलाइन पेमेंट के दौर में मोबाइल वॉलेट एप्स काफी ज्यादा यूज हो रही हैं। लेकिन इनके उपयोग के दौरान रिस्क भी उतना ही रहता है। इसी खतरे को देखते हुए यूजर्स को रिजर्व बैंक वक्त वक्त पर अलर्ट करता रहता है। ऐसी ही एक ऐप को लेकर बैंक ने अलर्ट जारी किया है। अपने अलर्ट में केंद्रीय बैंक ने कहा है कि अगर इस ऐप का उपयोग करना भारी पड़ सकता है।

जानकारी के अनुसार RBI ने चेतावनी जारी की है कि यूजर्स सोशल मीडिया या किसी और माध्य म से AnyDesk नाम की मोबाइल ऐप डाउनलोड करने की कोशिश की तो उनका बैंक अकाउंट हैक हो सकता है। हैकर इसके साथ ही उनके खाते में जमा रकम खत्म कर सकते हैं।

यूनिफाईड पेमेंट इंटरफेस (UPI) में बढ़ते फर्जी ट्रांजेक्शन से बचने के लिए आरबीआई ने बैंको को अलर्ट जारी किया था। नोटिस में आरबीआई ने बैंकों को बताया था कि एक मोबाइल एप ”AnyDesk’ नाम के ऐप का इस्तेमाल कस्टमर्स के एकाउंट में सेंध लगाने के लिए किया जा रहा है

RBI ने जारी की चेतावनी
सबसे पहले आपको ये बता दें कि AnyDesk एक ऐसा सॉफ्टवेयर है जो यूजर के मोबाइल या लैपटॉप के जरिए बैंक अकाउंट से लेनदेन कर सकता है। RBI ने चेतावनी जारी करते हुए कहा है कि अगर यूजर इस ऐप को डाउनलोड करते हैं तो उनका अपनी डिवाइश पर कोई कंट्रोल नहीं रहता है। हैकर्स दुनिया के किसी भी कोने से यूजर की डिवाइश को रिमोटली एक्सेस कर सकते हैं। साथ ही आपके बैंक अकाउंट से पैसा भी चुरा सकते हैं। RBI ने चेतावनी जारी कर लोगों को जगरुक करने की कोशिश की है।

AnyDesk कैसे करती है काम?
इस ऐप यानी AnyDesk को फोन में डाउनलोड करने के बाद यह ऐप यूजर के फोन पर 9 डिजिट का ऐप कोड जनरेट करता है। इसके बाद हैकर्स यूजर को बैंक की तरफ से फोन करते हैं और कोड मांगते हैं। अगर यूजर हैकर को कोड दे देता है तो हैकर्स यूजर का बैंक अकाउंट खाली कर देते हैं। यही नहीं, हैकर्स बिना यूजर को पता लगे उसके फोन की सभी जानकारी डाउफनलोड कर सकता है।

इससे पहले भी एक खबर सामने आई थी जिसमें बताया गया था कि Currency Converter और Battery SaverMobi ऐप्स स्मार्टफोन के मूव होने पर उस फोन में Payload को फैला देती है। इसका नाम Anubis Trojan है।

Facebook Comments
Please Share this Article, Follow and Like us:
  •  
    111
    Shares
  • 111
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •