Government should not forget to understand Shaheen Bagh, the movement will continue even after the lockdown.jpg

शाहीन बाग समझने की भूल न करे सरकार, लाॅकडाउन के बाद भी चलेगा आंदोलन

RewaRiyasat.Com
Sandeep Tiwari
08 Apr 2021

नई दिल्ली ( New Delhi News in Hindi) :  किसान नेता राकेश टिकैत ने केन्द्र सरकार को चेतावनी देते हुए कहा है कि वह किसान आंदोलन को शाहीन बाग समझने की गलती न करें। टिकैत ने कई ट्वीट किये उनके हर ट्वीट सरकार की नीतियों के खिलाफ थी और सरकार को कटघरे में खड़ी कर रही थी। टिकैत का कहना था कि सरकार चाहे लाॅकडाउन लगाए या कफर््यू किसान आंदोलन से एक इंच पीछे नहीं जाने वाले हैं।

सरकार के मंसूबे ठीक नहीं

उन्होने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार के मंसूबे ठीक नहीं लग रहे हैं। किसानों का आंदोलन समाप्त करने सरकार कोई भी कदम उठा सकती है। उन्होने इसारा करते हुए कहा कि सरकार शाहीन बाग की तरह अगर किसानो के साथ कुछ करने की अगर सोच रही है तो वह पूरा नहीं होगा।

सेल फार इंडिया की ओर जा रही सरकार

देश में बैठी सरकार आपने को सबकुछ मानकर लूट रही है। ऐसी सरकार को अब जाना होगा। टिकैत ने अपने एक ट्वीट में लिखते हुए कहा कि सरकार सेल फार इंडिया पर काम कर रही है। जिसका मतलब तो सभी जानते हैं। 

यह तो उद्योगपतियों की सरकार

टिकैत का कहना है कि सरकार देश की गरीब जनता द्वारा जरूर चुनी गई है। लेकिन सरकार गारीबों के बजाय उद्योगपतियों के लिए काम कर रही है। अगर सरकार मे लचीलापन होता तो वह आवश्य ही किसानों की मोगांे की ओर ध्यान देती। लेकिन ऐसा नही हो रहा है। 
 

SIGN UP FOR A NEWSLETTER