ब्रैडमैन ने 3 ही ओवर में लगा दिया था शतक, जानें कैसे किया था ये कमाल

खेल

नई दिल्ली: ऑस्ट्रेलिया के सर डॉन ब्रैडमैन का 110वां जन्मदिन है. उन्हें आज भी क्रिकेट का महानतम बल्लेबाज माना जाता है. ऑस्ट्रेलिया के इस दिग्गज बल्लेबाज ने अपने अपनी टीम को क्रिकेट के शीर्ष पर पहुंचाया और कई ऐसे रिकॉर्ड अपने नाम किए जिन्हें आज भी तोड़ा नहीं जा सका है. इन रिकॉर्ड टूटना आज भी सपना ही लगता है. इनमें एक रिकॉर्ड बहुत ही खास है जिसके बारे में आज के बल्लेबाज सोच भी नहीं पाते.

डॉन ब्रेडमैन का 1931 में बनाया गया रिकॉर्ड तोड़ना तो दूर उसके बारे में सोचना भी नामुमकिन लगता है. 1931 में ब्लैकहीथ इलेवन और लिथगो के बीच हुआ था. ब्रेडमैन इस मैच में वेंडल बेल के साथ ब्लैकहीथ की तरफ से बल्लेबाजी कर रहे थे. उन दिनों ब्रेडमैन शानदार फॉर्म में चल रहे थे. ब्रेडमैन ने इस मैच में 256 रन जड़े थे. जिसमें 14 छक्के और 29 चौके शामिल थे. 

ऐसे बना था तीन ओवर में शतक
इसी मुकाबले में उन्होंने तीन ओवर में शतक जड़कर सभी को चौंका दिया था. उन दिनों एक ओवर 6 गेंदों का नहीं 8 गेंदों का हुआ करता था. ब्रैड मैन ने इस मैच में अपने पहले ओवर में  33 रन, दूसरे ओवर में 40 रन और तीसरे ओवर में 27 रन बनाए थे.  यह एक नामुमकिन से आंकड़े लग सकते हैं. लेकिन ब्रैड मैन ने पहली दो गेंदों पर छक्के, फिर एक चौका, दो रन, दो चौके, एक छक्का और आखिरी गेंद पर 1 रन बनाए थे. यानि पहले ओवर में ब्रैडमैन ने तीन छक्के, तीन चौके, एक बार दो रन और एक बार एक रन लिया था. 

ब्रैडमैन ने दूसरे ओवर में 40 रन बनाए थे. इनमें पहले छक्का, दो चौके, फिर दो छक्के, एक चौका, एक छक्का और आखिरी गेंद पर एक चौका मारा था. इस तरह से चार चौके और चार छक्के लगाकर 16 रन चौकों से और 24 रन छक्कों से बटोरते हुए कुल 40 रन बना डाले. तीसरे ओवर में ब्रैडमैन को 27 रनों की जरूरत थी शतक के लिए और वे दूसरे छोर पर खड़े थे. पहली ही गेंद पर वेंडल बेल ने एक रन लेते हुए ब्रैडमैन को मौका दिया. इसके बाद उन्होंने दो छक्के लगा दिए फिर एक रन लिया. वेंडल बेल ने अगली गेंद पर फिर एक रन लेकर स्ट्राइक ब्रैडमैन को दे दी. अब ओवर की तीन गेंदें बाकी थी और ब्रैडमैन ने दो चौके और एक छक्का लगा कर अपना शतक पूरा कर लिया. इस ओवर में ब्रैडमैन ने तीन छक्के, दो चौके और दो बार एक रन लिए. 

18 मिनट में बना था यह शतक
ब्रैडमैन का यह शतक केवल 18 मिनट में आया था. इस मुकाबले की खास बात यह थी कि यह  कंक्रीट की पिच पर खेला गया था. अभी के रिकॉर्ड्स की बात की जाए तो वनडे क्रिकेट में सबसे तेज शतक लगाने वाले खिलाड़ी साउथ अफ्रीका के एबी डिविलियर्स हैं. जिन्होंने 31 गेंदों पर शतक लगाया था. वहीं टी20 सबसे तेज शतक 35 गेंदों पर दक्षिण अफ्रीका के ही डेविड मिलर के नाम है जो उन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ अक्टूबर 2017 में लगाया था उसके बाद दिसंबर 2017 में भारत के रोहित शर्मा ने इंदौर में श्रीलंका के खिलाफ 35 गेंदों में ही शतक लगाया था. 

शानदार रिकॉर्ड रहे हैं ब्रैडमैन के नाम
ब्रैडमेन ने अपने टेस्ट कैरियर में कुल 52 टेस्ट मैच खेले थे जिसमें 99.94 की बल्लेबाजी औसत से कुल 6996 रन बनाए थे जिसमें 29 शतक और 13 अर्द्धशतक भी शामिल हैं. 12 डबल सेंचुरी, 1930 में हेडिंग्ले में एक ही दिन 309 रन बनाने का रिकॉर्ड,  किसी एक देश के खिलाफ 5000 से ज्यादा रन,  सर्वाधिक टेस्ट औसत 99.94, जैसे कई रिकॉर्ड हैं जो ब्रैडमैन के नाम आज भी हैं. 

Facebook Comments