INDvsENG 1st test: भारत की जीत में कैसे बन गया यह अनजान खिलाडी बाधा

खेल

नई दिल्ली: भारत और इंग्लैंड के बीच एजबेस्टन में हो रहे पहले टेस्ट के तीसरे दिन ही टीम इंडिया के गेंदबाजों ने एक बार फिर कमाल दिखाया और पहली पारी में केवल 13 रन की बढ़त हासिल करने वाली इंग्लैंड की टीम के लंच से पहले 6 विकेट गिरा दिए. इंग्लैंड की टीम का लंच तक स्कोर 6 विकेट के नुकसान पर 86 रन हो गया. कई उतार चढ़ाव भरे इस मैच में कुछ समय पहले तक इंग्लैंड के एक गुमनाम खिलाड़ी ने टीम इंडिया की जीत की राह में बार बार बाधा डाली.

तीसरे दिन लंच तक की इस स्थिति में टीम इंडिया का पलड़ा भारी ही नजर आने लगा जब लंच के तुरंत बाद इंग्लैंड का एक विकेट और गिर गया और इंग्लैंड का स्कोर 87 रनों पर सात विकेट हो गया. लेकिन इसके बाद दो बार इंग्लैंड का वापसी करा चुके 20 साल के सैम कुरैन ने एक बार फिर टीम इंडिया की जीत को आसान करने से रोकते हुए शानदार अर्शतक लगाते हुए 63 रनों की पारी खेली. कुरैन ने ब्रॉड के साथ 41 रनों की साझेदारी की.

सैम कुरैन ने आठवे विकेट की साझेदारी करते हुए आदिल राशिद के साथ न केवल इंग्लैंड का स्कोर 100 के पार कराया बल्कि इंग्लैंड की पारी में सबसे ज्यादा रन भी बना लिए. सैम के बाद सबसे ज्यादा रन जॉनी बेयरस्टॉ ने बनाए जो कि 28 रन ही थे. दूसरे सत्र में खराब रोशनी के कारण खेल रोके जाने के समय कुरैन ने 30 रन बना लिए थे. और इग्लैंड का स्कोर 7 विकेट पर 131 रन कर दिया था. कुरैन और आदिल ने 48 रनों की साझेदारी की.

ऐसा केवल पहली बार ही नहीं हो रहा है जब कुरैन ने इंग्लैंड पर हावी होती टीम इंडिया को रोका. इससे पहले पहली पारी में जब सैम कुरैन बल्लेबाजी करने आए थे. उससे समय इंग्लैंड के विकेट धड़ाधड़ गिर रहे थे. इंग्लैंड की पहली पारी में तीन विकेट के नुकसान पर 216 रन स्कोर होने के बाद कप्तान जो रूट रन आउट हुए और इंग्लैंड के विकेट गिरने का सिलसिला शुरू हो गया था. जोस बटलर के आउट होने के बाद इंग्लैंड का स्कोर 224 रनों पर 6 विकेट हो गया था और वे बेन स्टोक्स का साथ देने क्रीज पर आए थे. इसके बाद स्टोक्स 243 रन पर, आदिल राशिद 278 रन पर और स्टुअर्ट ब्रॉड 283 रन पर आउट होते गए लेकिन सैम कुरैन ने अपना विकेट नहीं गंवाया और पहले दिन का खेल खत्म होने तक इंग्लैंड की टीम को आउट होने से बचा लिया.

इसके बाद जरूर सैम दूसरे दिन के दूसरे ओवर में ही आउट हो गए लेकिन उन्होंने टीम का स्कोर 287 तक कर दिया था जिसमें उनकी 24 रनों की कीमती पारी थी. कुरैन इंग्लैंड की ओर से सबसे ज्यादा रन बनाने वाले चौथे बल्लेबाज रहे.

चार अहम विकेट लिए कुरैन ने भारत के
इसके बाद दूसरी बार सैम कुरैन ही इंग्लैंड के लिए कमाल किया जब टीम इंडिया की पहली पारी में सलामी बल्लेबाजों ने पहले विकेट के लिए 50 रनों की नाबाद साझेदारी कर दी थी तब सैम कुरैन ने एक के बाद एक तीन विकेट लेकर विराट की टीम को संकट में डाल दिया. था इसके बाद जब विराट कोहली पिच पर जमने लगे थे और हार्दिक भी अपनी पारी बढ़ाने की कोशिश कर रहे थे तब सैम ने दोनों के बीच 48 रनों की साझेदारी को तोड़ते हुए हार्दिक पांड्या को आउट कर दिया.