धोनी का कैरियर बनाने के लिए खत्म किया इस दिग्गज खिलाड़ी का कैरियर- सौरभ गांगुली

खेल

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान Sourav Ganguly हमेशा ही युवा खिलाडिय़ों की पहचान करके उन्हें मैच विनर बनाने के लिए जाने जाते रहे हैं। सौरव गांगुली ने अपनी कप्तानी में देश को बहुत होनहार और बड़े मैच विनर दिए हैं। उस लिस्ट में भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी महेंद्र सिंह धोनी का नाम भी आता है।

रांची ने राष्ट्रीय टीम को नहीं दिया था कोई महान खिलाड़ी
महेंद्र सिंह धोनी भारत के एक छोटे से शहर रांची से आते हैं जो भारत का ऐसा हिस्सा है जिसने आजतक देश को कभी भी राष्ट्रीय क्रिकेटर नहीं दिया था। लेकिन महेंद्र सिंह धोनी राष्ट्रीय टीम में ही नहीं खिले बल्कि वह दशक तक देश के कप्तान भी रहे हैं। महेंद्र सिंह धोनी का नाम दुनिया के सबसे सफल विकेटकीपर बल्लेबाजों में लिया जाता है।

पाकिस्तान के खिलाफ शानदार पारी खेलकर धोनी बने थे स्टार खिलाड़ी
हालांकि जब महेंद्र सिंह धोनी शुरूआत में आए थे तो वह नंबर 7 पर बल्लेबाजी करने आते थे। उस दौरान पर भारतीय टीम के तत्कालीन कप्तान Sourav Ganguly ने उन्हें नंबर 3 पर बल्लेबाजी का मौका दे दिया था। उसके बाद तो धोनी ने पाकिस्तान के खिलाफ 148 रनों की शानदार पारी खेली थी और वह रातों रात स्टार बन गए थे।

Sourav Ganguly ने ब्रेकफ़ास्ट विद चैंपियंस में बताया, “2004 में जब धोनी टीम में आये, जब वह शुरुआती दो मैच नंबर 7 पर खेले थे। हम वाइजैक में पाकिस्तान के विरुद्ध खेल रहे थे टीम घोषित हो चुकी थी और टीम मीटिंग में भी धोनी नंबर 7 पर थे।” “मैं अपने कमरे में बैठकर समाचार देख रहा था और सोच रहा था कि उसे कैसे (धोनी) को बड़ा खिलाड़ी बनाना है, मुझे पता था कि उसके पास बहुत प्रतिभा थीं।”

धोनी को Sourav Ganguly ने 7 नंबर की बजाय 3 नंबर पर बल्लेबाजी के लिए भेजा

आगे Sourav Ganguly ने कहा, “मैच के दौरान वह शॉर्ट्स में बैठा था क्योंकि उसे पता था कि उसे 7 पर बल्लेबाजी करनी थी, मैंने उससे कहा कि एमएस आपको नंबर 3 पर बल्लेबाजी करना है, उसने कहा आपका क्या होगा? मैंने कहा कि मैं 4 पर और तू 3 पर खेलेंगा। उन्होंने 170 रन बनाए (एमएस धोनी ने खेल में 148 रन बनाए)। मुझे लगता है कि आप खिलाड़ियों को कैसे बड़ा बना सकते हैं। मुझे लगता है कि आप किसी को खिलाड़ी को नीचे धकेलकर(कम मौके देना) सुधार नहीं सकते हैं। आपको खिलाड़ी को क्षमता जानने के लिए उन्हें ज्यादा से ज्यादा मौके देने होते हैं।”

Sourav Ganguly ने धोनी का कैरियर बनाने के लिए अपना कैरियर किया बर्बाद
Sourav Ganguly ने धोनी को नंबर 3 पर भेज कर उसके कैरियर को तो बना दिया लेकिन अपना कैरियर बर्बाद कर दिया। नंबर 4 पर गांगुली ने अच्छी बल्लेबाजी नहीं की। जिसके बाद राहुल द्रविड़ की कप्तानी में उन्हें टीम से बाहर कर दिया गया और उनका कैरियर बर्बाद हो गया।