पुलिसकर्मियों से मारपीट मामले में सतना के विधायक तिवारी गिरफ्तार, मिली जमानत1 min read

Satna

सतना: पुलिसकर्मियों से की गई मारपीट के करीब 21 साल पुराने मामले में मंगलवार को सतना से भाजपा विधायक शंकरलाल तिवारी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। उन्हें सीजेएम न्यायालय में पेश किया गया, जहां से उन्हें 50 हजार के मुचलके पर जमानत मिल गई। इस मामले में विधायक समेत जिले के 20 भाजपा और कांग्रेस नेता फरार थे।

मालूम हो, 1997 में एक घटना में एक युवक की मौत हो गई थी। इसके विरोध में तिवारी के नेतृत्व में सिटी कोतवाली में धरना-प्रदर्शन हुआ और थाने में घुसकर पुलिसकर्मियों के साथ मारपीट की गई थी। पुलिसकर्मियों की शिकायत पर तिवारी समेत 28 लोगों के खिलाफ मारपीट व बलवा का मामला दर्ज किया गया था।

इसी बीच तिवारी ने 2003, 2008, 2013 में भाजपा से चुनाव लड़ा और विधायक बने, लेकिन कभी भी न्यायालय में हाजिर नहीं हुए। इस पर न्यायालय ने विधायक समेत 20 लोगों को फरार घोषित कर दिया। 8 अन्य आरोपितों ने केस लड़ा और बरी हो गए।

सड़क सुरक्षा कार्यक्रम के दौरान किया गिरफ्तार
मंगलवार को विधायक तिवारी सड़क सुरक्षा सप्ताह को हरी झंडी दिखाने पहुंचे थे। तभी पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया। मामले में पूर्व जिला भाजपा अध्यक्ष पुष्पेन्द्र सिंह, वरिष्ठ भाजपा नेता रामदास मिश्रा, भाजपा पार्षद अजय समुंदर, कांग्रेस जिला महासचिव मनीष तिवारी, वालेस त्रिपाठी समेत 19 लोग अभी भी स्थायी रूप से फरार हैं।

Facebook Comments