रीवा

आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश : रीवा जिले के 3158 युवाओं को मिला रोजगार

Aaryan Dwivedi
16 Feb 2021 6:44 AM GMT
आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश : रीवा जिले के 3158 युवाओं को मिला रोजगार
x
आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश के तहत आयोजित जिला स्तरीय रोजगार मेले में रीवा जिले के 4357 युवाओं का पंजीयन हुआ तथा 3158 युवाओं का प्राथमिक चयन किया

रीवा . मध्यप्रदेश शासन के तकनीकी शिक्षा कौशल एवं रोजगार विभाग के तत्वाधान में जिला प्रशासन द्वारा युवाओं को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के उद्देश्य से जिला स्तरीय रोजगार मेले का आयोजन किया गया। स्थानीय टीआरएस कालेज परिसर में मेले का शुभारंभ कन्या पूजन के साथ हुआ। आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश योजनान्तर्गत रोजगार उत्सव मेले में विभिन्न कंपनियों में चयनित युवाओं को जॉब ऑफर लेटर सौंपे गये। आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश के तहत आयोजित जिला स्तरीय रोजगार मेले में रीवा जिले के 4357 युवाओं का पंजीयन हुआ तथा 3158 युवाओं का प्राथमिक चयन किया जाकर 1056 को आफर लेटर दिये गये।

प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल से रोजगार उत्सव कार्यक्रम में वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से युवाओं से संवाद स्थापित कर उनकी हौसला आफजाई की। इस अवसर पर अपने उद्बोधन में उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जी के आत्मनिर्भर भारत के संकल्प को पूरा करने के लिये आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश का रोपमैप तैयार किया गया है। किसी भी व्यक्ति के आत्मनिर्भर बन जाने से ही आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश बनेगा अत: प्रदेश में सरकार का मुख्य उद्देश्य है रोजगार की उपलब्धता सुनिश्चित हो।

शासकीय सेवा के साथ ही निजी क्षेत्र में रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने की दिशा में सभी प्रयास जारी है। हमारा लक्ष्य है कि हर माह एक लाख रोजगार के अवसर उपलब्ध हों। उन्होंने निजी कंपनियों से अपेक्षा की कि म.प्र. में निवेश के अच्छे अवसर एवं सुविधाओं का लाभ उठाते हुए उद्योग लगायें तथा स्थानीय लोगों को रोजगार में प्राथमिकता दें।

रीवाः बेटे को डॉक्टर बताकर की थी शादी, सच सामने आने के बाद हुआ कुछ ऐसा…

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि स्वरोजगार स्थापना के लिये नयी नीति बनायी जा रही है जिससे युवाओं को स्वरोजगार स्थापन में सहूलियत होगी तथा रोजगार की नई राह मिलेगी। उन्होंने स्वसहायता समूहों को और ज्यादा सशक्त करने पर भी बल दिया।

श्री चौहान ने युवाओं का आह्वान किया कि रोजगार अथवा स्वरोजगार प्राप्त कर पूरी निष्ठा व मेहनत से कार्य करें व प्रदेश को सर्वश्रेष्ठ बनाने में योगदान दें। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने धार केरानी मकवाना, सतना के धनराज पयासी व शिवपुरी के हर्षवर्धनी सिसोधिया से उन्हें मिले नये जॉब के विषय में जानकारी ली व शुभकामनाएँ दी।

ठाकुर रणमत सिंह महाविद्यालय प्रांगण रीवा में आयोजित जिला स्तरीय रोजगार मेले में विधायक मनगवां डॉ. पंचूलाल प्रजापति ने कहा कि प्रधानमंत्री जी व मुख्यमंत्री जी का ध्येय है कि हर हाँथ को काम मिले। युवक/युवतियाँ रोजगार पायें तथा आत्मनिर्भर बनें। उन्होंने जिला प्रशासन द्वारा रोजगार मेले के आयोजन की प्रशंसा करते हुए कहा कि यह आयोजन युवाओं के लिये वरदान सावित होगा।

रीवा को रेलवे ने दी एक और नए ट्रेन की सौगात, लम्बे समय से थी मांग…

कार्यक्रम में विधायक सेमरिया केपी त्रिपाठी ने अपने उद्बोधन में युवाओं से आह्वान किया कि पूरी कर्मठता व लगन से कार्य कर रोजगार के अवसर का लाभ उठायें। उन्होंने कहा कि संभावनाएँ असीमित हैं इनका लाभ लेकर आगे बढ़े। रीवा में विकास के साथ ही रोजगार व स्वरोजगार उपलब्ध कराने की दिशा में प्राथमिकता से काम किये जा रहे हैं। इस अवसर पर कमिश्नर श्री राजेश कुमार जैन, कलेक्टर इलैयाराजा टी व मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत स्वप्निल वानखेड़े सहित अतिथियों ने युवाओं को टोकन स्वरूप जॉब ऑफर लेटर सौंपे।

यहाँ क्लिक कर RewaRiyasat.Com Official Facebook Page Like

कार्यक्रम में उप संचालक रोजगार अनिल दुबे ने बताया कि म.प्र. शासन की जॉब फेयर योजना के तहत बेरोजगार युवाओं को सार्वजनिक व निजी क्षेत्र में प्रत्यक्ष रोजगार उपलब्धता के लिये वर्ष 2008-09 से रोजगार मेलों का आयोजन किया जा रहा है। आत्मनिर्भर म.प्र. के तहत 9 दिसंबर 2020 से 12 जनवरी 2021 तक जिले में 7 रोजगार मेलों के माध्यम से 23 कंपनियों द्वारा 1054 आवेदकों का प्राथमिक चयन किया गया जिनमें से 480 आवेदकों को आफर लेटर प्रदान किये गये। कार्यक्रम का संचालन सहायक संचालक पिछड़ावर्ग सीएल सोनी ने किया तथा आभार प्रदर्शन प्राचार्य आईटीआई पीएस पनिका द्वारा किया गया।

आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश : रीवा जिले के 3158 युवाओं को मिला रोजगार

इस दौरान प्राचार्य टीआरएस महाविद्यालय डॉ. अर्पिता अवस्थी, महाप्रबंधक उद्योग यूबी तिवारी, एलडीएम रश्मेन्द्र सक्सेना, संकल्प परौहा सहित विभागीय अधिकारी व विभिन्न कंपनियों के प्रतिनिधि व बड़ी संख्या में युवा उपस्थित रहे।

रोजगार मेले में 3158 युवाओं का हुआ प्राथमिक चयन

आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश के तहत आयोजित जिला स्तरीय रोजगार मेले में 4357 युवाओं का पंजीयन हुआ तथा 3158 युवाओं का प्राथमिक चयन किया जाकर 1056 को आफर लेटर दिये गये। कुछ कंपनियों द्वारा प्रक्रिया पूरी होने के बाद ऑफर लेटर प्रदान किये जायेंगे।

उल्लेखनीय है कि मेले में पांच हजार से अधिक युवाओं ने भाग लिया। टीआरएस कालेज ग्राउंड में 27 विभिन्न कंपनियों के स्टाल में युवाओं ने अपने फार्म जमा किये। काउंसिलिंग के उपरांत उनका लिखित/मौखिक टेस्ट हुआ तदुपरांत चयनित युवाओं को जॉब लेटर प्रदान किये गये।

मेले में प्रतीक स्वरूप शुभम द्विवेदी, प्रवीण पटेल, प्रकाश मिश्रा, संतोष कुमार, विवेक सिंह, खुशबू यादव, अंकिता उपाध्याय, सोनम त्रिपाठी, आकाश मिश्रा, राजीव सिंह, धर्मवीर सिंह को अतिथियों ने जॉब लेटर प्रदान किये। इस दौरान कंपनियों के प्रतिनिधि भी उपस्थित रहे।

Next Story