रीवा : जनिए पुलिस को क्यों करना पड़ा लाठीचार्ज, ट्रेन रोकने गए प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने दौड़ा-दौड़ाकर पीटा

Rewa

रीवा: एससी एसटी एक्ट के विरोध में दिनभर चला शांतपूर्ण आंदोलन पुलिस के लाठी चार्ज के बाद उग्र हो गया। इस दौरान प्रदर्शन कर रहे लोगों ने पुलिसकर्मियों पर पत्थरबाजी की। जिसके बाद रेलवे कॉलोनी में प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने दौड़ा-दौड़ा कर पीटा। जिसमें दो युवक घायल हुए हैं। उन्हें इलाज के लिए भर्ती कराया गया है। साथ ही तीन लोगोंं को पुलिस ने हिरासत में लिया है। लाठी चार्ज के बाद अफरा-तफरी का माहौल निर्मित हो गया। कड़ी सुरक्षा के बीच आनंद विहार ट्रेन को अपने निर्धारित समय दोपहर 4 बजे रवाना किया गया। जिले में एक्ट्रोसिटी एक्ट के विरोध में प्रदर्शन के दौरान धारा- 144 बेअसर रही। आंदोलनकारियों के सामने प्रशासन तमाशबीन बना रहा। जिसका खामियाजा लोगों को भुगतना पड़ा।

स्टेशन परिसर में घुसने ही नहीं दिया
बताया जा रहा है कि दिनभर शांति पूर्ण आंदोलन करने के बाद सर्वण समाज के लोग दोपहर बाद करीब तीन बजे रेल रोककर विरोध प्रदर्शन करने पहुंच गए। इस बीच पुलिस ने समझाइश देकर उन्हें रोकने का प्रयास किया। यहां तक कि स्टेशन परिसर में घुसने ही नहीं दिया। जिसके चलते सतना इंड से प्रदर्शन कर ट्रेन रोकने पहुंच गए। इसी बीच बातचीत के दौरान अचानक पुलिस ने लाठी चार्ज कर दिया जिससे भगदड़ मच गई। पुलिस के लाठी चार्ज का प्रदर्शनकारियों ने पत्थर से जबाव दिया, तब पुलिस ने बल प्रयोग कर दिया। इसमें दो युवकों को गंभीर चोट आई है।

पुलिस ने छोड़े आंसू गैस के गोले
स्टेशन परिसर में स्थित बिगड़ते देख पुलिस ने आंसू गैस के तीन गोले छोड़े। जो हवा विपरीत दिशा में होने के कारण निष्प्रभावी रहे, लेकिन इस आंसू गैस के चपेट में एक महिला आरक्षक चक्कर रखाकर गिर पड़ी। तत्काल उसे इलाज के लिए अस्पताल भेजा गया है।

Facebook Comments
Please Share this Article, Follow and Like us:
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •