रीवा रेंज IG और सिंगरौली SP ने मिलकर बनाई ऐसी फिल्म जो लगाएगी महिला अपराधों पर लगाम

Madhya Pradesh Rewa Singrauli Vindhya

भोपाल। अक्सर हम आप अपनी झूठी शान और इज्जत खातिर रिस्क लेते रहते है और पुलिस को मामले की जानकारी देना ठीक नहीं समझते। फिर एक दिन ऐसी बड़ी घटना घटित हो जाती है और आपकी इज्जत भी चली जाती है और आपको मजबूरन पुलिस की दहलीज पहुंचकर थाने का दरवाजा खटखटाना पड़ता है। ‘भूल एक नसीहत’ शार्ट फिल्म के जरिए प्रदेश की जनता को जागरूक करने और पुलिस के प्रति समाज को नजरिया बदलने का एक संदेश रीवा रेंज आईजी उमेश जोगा और सिंगरौली एसपी ने साकार किया है।

12 फीसदी आई महिला अपराधों में कमी

दरअसल, फरवरी-मार्च के बीच रीवा संभाग स्तर पर डीजीपी ऋषि कुमार शुक्ला ने महिला अपराधों पर लगाम कसने के लिए एक बैठक ली थी। उस बैठक के बाद प्रदेश के सिंगरौली जिले के (युवा आईपीएस) एसपी विनीत जैन ने आमजन के बीच जागरूकता फैलाने के लिहाज एक शार्ट फिल्म बनाई। इस शार्ट फिल्म का असर यह हुआ कि सिंगरौली जिले में 12 फीसदी महिला अपराधों में कमी आई। यह शार्ट फिल्म फिल्म एक स्कूली नाबालिग लड़की पर केंद्रित है। साथ ही उसके माता-पिता पर और पुलिस किस तरह से आपके लिए तकलीफें उठाती है जिसके लिए आप खुद जिम्मेदार रहते हैं।

कैसे शुरू होती है प्रेम कहानी कौन बनता है मुलजिम

फिल्म में एक मध्यम-वर्गीय परिवार पर है। यानि एक दंपत्ति और उनकी 17 साल की इकलौती बेटी। बेटी स्कूल में पढ़ती है। रास्ते में आते जाते वक्त लड़की का एक लड़का पीछा शुरू कर देता है, उसे परेशान करता है। लड़के का प्यार एक-तरफा रहता है। लड़की उसका विरोध करती है। यह बात अपने माता-पिता को बताती है, लेकिन माता-पिता उसकी बात को नजरअंदाज कर देते हैं। एक दिन लड़का उस लड़की को मोबाइल फोन जबरन गिफ्ट देता है और यहां से प्रेम-कहानी शुरू हो जाती है। इस प्रेम कहानी में क्या होता है? क्या प्रेम कहानी पूरी होती है? इस प्रेम कहानी का अंजाम क्या होता है ? पुलिस क्या करती है ? इस प्रेम कहानी में कौन कौन मुल्जिम बनकर सामने आते हैं? इस प्रेम कहानी में माता-पिता की क्या गलती है? इस अधूरी प्रेम कहानी के नायक और खलनायक कौन हैं? यह सब जानने के लिए आपको यह शार्ट फिल्म ‘भूल एक नसीहत’ देखनी पड़ेगी।

स्कूल खुलते ही छात्र-छात्राओं के साथ माता-पिता को दिखाई जाएगी

इस शार्ट फिल्म को फिल्हाल गांव-गांव जाकर दो मारूति वैन में टीवी लगाकर आमजन व माता-पिता के साथ नाबालिग लड़के-लड़कियों के बीच दिखा रहे हैं। मारूति वैन और फिल्म का उद्घाटन सीएम शिवराज सिंह चौहान ने किया है। सीएम शिवराज सिंह चौहान के निर्देश पर स्कूल खुलते ही इसे (एनटीपीसी) नेशनल थर्मल पॉवर कार्पोरेशन और (एनसीएल) नॉर्दन कोलफिल्ड लिमिटेड में लगे बडे पर्दो पर स्कूली छात्र-छात्राओं के साथ उनके माता-पिता को दिखाई जाएगी।

Facebook Comments
Tagged

Leave a Reply

Your email address will not be published.