रीवा: जान देकर माँ को चुकानी पड़ी दो बेटियों को जन्म देने की कीमत, बेटे के चाह ने ससुराल वालों ने बंद कर दिया था खाना-पानी 1

रीवा: जान देकर माँ को चुकानी पड़ी दो बेटियों को जन्म देने की कीमत, बेटे के चाह ने ससुराल वालों ने बंद कर दिया था खाना-पानी

Crime Rewa

रीवा। कहा जाता है की बेटी है तो कल है। लेकिन एक मां को दो बेटियों को जन्म देना इतना महंगा पड़ गया कि उसे इसकी कीमत अपनी जान देकर चुकानी पड़ी। पहली बेटी के जन्म होते ही ससुराल वालों द्वारा उसे प्रताडि़त किया जाने लगा था, लेकिन दूसरी बेटी के जन्म लेते ही उस पर मुसीबतों का पहाड़ टूट पड़ा और ससुराल वालों ने उसे खाना देना भी बंद कर दिया। दूसरी बच्ची के जन्म के बाद खाना न मिलने के चलते प्रसूता को खून की कमी हो गई और आए दिन मारपीट से कमजोर हुई महिला की मौत हो गई। बेटी के इस तकलीफ से व्यथित पिता ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मामला पंजीबद्ध कर आरोपी पति और ससुर को सलाखों के पीछे पहुंचा दिया है।

मिली जानकारी के अनुसार राधा साहू पिता जगमोहन साहू निवासी हिनौती थाना शाहपुर का विवाह 2015 में संजीव साहू पिता राम रसीले साहू निवासी पकरा थाना मऊगंज के साथ हुआ था। शादी के 2 साल बाद एक बेटी का जन्म हुआ। बेटी के जन्म होते ही ससुराल वालों ने राधा को परेशान करना शुरू कर दिया। लेकिन 2 साल बाद अभी 2 माह पहले राधा ने दूसरी बेटी को जन्म दिया तो ससुराल वालों की प्रताडऩा और बढ़ गई और राधा को खाना देना बंद कर मारपीट करने लगे। जब इसकी जानकारी राधा के पिता जगमोहन साहू को हुई, तो उसने राधा को संजय गांधी अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया, जहां डाटरों ने खून की कमी बताया। इसी दौरान राधा की उपचार के दौरान मौत हो गई। राधा के शरीर में चोट के निशान मिले थे और मृतिका के पिता द्वारा मऊगंज थाने में प्रताडऩा की रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। पुलिस ने जांच के दौरान आरोप सही पाए और मृतिका के पति तथा ससुर के खिलाफ दहेज प्रताडऩा के साथ मारपीट के साक्ष्य मिलते ही मामला पंजीबद्ध कर लिया। शनिवार को मऊगंज पुलिस ने आरोपी पति संजीव साहू एवं ससुर राम रसीले साहू को गिरतार कर सलाखों के पीछे पहुंचा दिया।

Facebook Comments
Please Share this Article, Follow and Like us:
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •