रीवा : यहाँ पढ़ें आज के 'सरकारी समाचार' 1

रीवा : यहाँ पढ़ें आज के ‘सरकारी समाचार’

Rewa Madhya Pradesh

दिव्यांगजनों को समाज की मुख्य धारा से जोड़ने का प्रयास करें – मंत्री श्री पटेल 

रीवा संभाग को बाधारहित संभाग बनायें – कमिश्नर डॉ. भार्गव 

दिव्यांगजन अधिकार अधिनियम की संभागीय कार्यशाला संपन्न 

रीवा 22 अक्टूबर 2019. मध्यप्रदेश शासन के पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री कमलेश्वर पटेल के मुख्य आतिथ्य में दिव्यांगजन अधिकार अधिनियम की संभागीय कार्यशाला कलेक्ट्रेट के मोहन सभागार में आयोजित की गई। कार्यशाला की अध्यक्षता कमिश्नर रीवा संभाग डॉ. अशोक कुमार भार्गव द्वारा की गई। कार्यशाला में कलेक्टर रीवा ओमप्रकाश श्रीवास्तव सहित कलेक्टर सीधी, सतना, सिंगरौली, जिला एवं जनपद पंचायतों के सीईओ तथा विभिन्न विभागों के संभागीय जिला अधिकारी उपस्थित थे। 

मुख्य अतिथि पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री पटेल ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के चित्र के समक्ष दीप प्रज्जवलित कर कार्यशाला का शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि दिव्यांगजनों के हित में रीवा संभाग में कमिश्नर डॉ. भार्गव के मार्गदर्शन में महत्वपूर्ण पहल की गई है जो सराहनीय है। बहुत से दिव्यांगजन हैं जिन्हें अपने अधिकारों की जानकारी नहीं है। इनको अधिकार दिलाने के लिए सभी अधिकारी अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन अच्छे ढंग से करें। दिव्यांगजनों के हित में बनाई गई योजनाओं का क्रियान्वयन ठीक ढंग से करें। दिव्यांगों की मदद और उन्हें प्रोत्साहित करने की आवश्यकता है। उनके प्रति अच्छा व्यवहार रखें। कोई भी असहाय निराश्रित दिव्यांग को यह महसूस नहीं हो कि वह समाज से वंचित हैं। दिव्यांगजनों को समाज की मुख्य धारा से जोड़ने के लिए कोई कमी नहीं रहने दें। अपनी सोच अच्छी रखें और जिम्मेदारी के साथ कार्य करें। उन्होंने कहा कि दूसरों का हित करने में ही हमारी भलाई है। अत: दिव्यांगों के कल्याण और उत्थान के लिए कोई कमी नहीं रहने दें। मुख्य अतिथि ने दिव्यांगजनों को चलने के लिए स्मार्ट स्टिक भी प्रदान किए। 

रीवा : यहाँ पढ़ें आज के 'सरकारी समाचार' 2

कार्यशाला की अध्यक्षता करते हुए कमिश्नर रीवा संभाग डॉ. अशोक कुमार भार्गव ने कहा कि आज की कार्यशाला मानवीय पहलू से जुड़ी हुई है। दिव्यांगजन समाज की मुख्यधारा से जुड़ सकें एवं उनके प्रति सकारात्मक माहौल बन सके इस उद्देश्य से यह कार्यशाला आयोजित की गई है। हम प्रतिवर्ष 10 दिसम्बर को मानव अधिकार दिवस मनाते हैं। जो अधिकार सभी मानवों को प्राप्त हैं वही अधिकार दिव्यांगजनों को भी प्राप्त हैं। हमारी आबादी का 2.3 प्रतिशत जनसंख्या दिव्यांगजनों की है। उन्होंने कहा कि दिव्यांगों के कल्याण के लिए शासन स्तर से कई प्रयास किए जा रहे हैं। इसी के परिणामस्वरूप दिव्यांगजन अधिकार अधिनियम क्रियान्वित किया जा रहा है। दिव्यांगजनों को आवागमन में कोई असुविधा हो, उनके लिए सुगम शौचालय की व्यवस्था हो। दिव्यांगजन के प्रति भेदभाव हो इसके लिए सकारात्मक सोच के साथ कार्य करने की जरूरत है। रीवा संभाग को बाधा रहित संभाग बनाने की दिशा में प्रयास करें। दिव्यांगजन समाज के मुख्य अंग हैं। इनको सभी तरह की सुविधायें उपलब्ध कराना हमारा मकसद होना चाहिए। 

रीवा : यहाँ पढ़ें आज के 'सरकारी समाचार' 3

कार्यशाला के द्वितीय सत्र में कमिश्नर डॉ. भार्गव ने कहा कि दुनिया की सबसे खूबसूरत चीज हमारी आँखें हैं। आँखों के प्रति लापरवाह रहें उनकी नियमित रूप से जांच कर आँखों के रोगों से बचने का प्रयास करें। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के द्वारा निर्धारित मानक के अनुसार रैम्प बनवाये जायें। उन्होंने समारोह पूर्वक कृत्रिम अंग और उपकरण वितरित कराने के निर्देश दिए। उन्होंने पोलियो करेक्टिव सर्जरी शिविर आयोजित करने के भी निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि मेडीकल बोर्ड निर्धारित दिवस में बैठे और कोई दिव्यांगता प्रमाण पत्र से वंचित रहे। उन्होंने दिव्यांगजनों के विवाह के पंजीयन करने और दिव्यांगों को सुगमतापूर्ण वातावरण उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। उन्होंने प्रत्येक विकासखंड स्तर पर दिव्यांगजनों के लिए शिविर आयोजित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इच्छा शक्ति, सद्भावना और दायित्व बोध हमारे मन में होगा तो दिव्यांगों के प्रति अच्छा वातावरण बनेगा। उन्होंने कहा कि विशेष आवश्यकता वाले बच्चों को दिव्यांगता प्रमाण पत्र दिलाने के लिए पहल करें। उन्होंने कहा कि कोई बच्चा जन्म से विकलांग नहीं हो इसके लिए प्रयास करें। दिव्यांगों को पात्रतानुसार शासन की योजनाओं का लाभ पहुंचाना सुनिश्चित करें। उन्होंने सभी ग्राम पंचायतों एवं नगरीय निकायों में दिव्यांग रजिस्टर संधारित करने के निर्देश दिए। 

रीवा : यहाँ पढ़ें आज के 'सरकारी समाचार' 4

कार्यशाला में संभाग के सभी कलेक्टरों ने अपने जिले में दिव्यांगों के हित में किए जा रहे कार्यों का प्रस्तुतिकरण किया। कार्यशाला में डॉ. रामनरेश पटेल, रमेश त्रिपाठी, श्रद्धा तिवारी, शशि जैन सहित अन्य लोगों ने सहभागिता कर अपने विचार व्यक्त किये। 


पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री ने पोषण आहार उत्पादन संयंत्र का किया निरीक्षण

आगामी नवम्बर माह के अंत तक पूर्ण करने के दिये निर्देश

रीवा 22 अक्टूबर 2019. प्रदेश के पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री कमलेश्वर पटेल ने आज अपने रीवा प्रवास के दौरान रायपुर कर्चुलियान विकासखंड के पहड़िया ग्राम में निर्माणाधीन पोषण आहार (टेफ होम राशन) संयंत्र का निरीक्षण किया तथा निर्देश दिये कि पूरी गुणवत्ता के साथ आगामी नवम्बर माह के अंत तक कार्य पूर्ण करा लिया जाय ताकि दिसंबर माह में संयंत्र का लोकार्पण हो सके।

रीवा : यहाँ पढ़ें आज के 'सरकारी समाचार' 5

भ्रमण के दौरान पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री ने निर्माण इकाई के अतिरिक्त पैकिंग प्लांट आफिस आदि का निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि शेष रह गये कार्य शीघ्रता से कराये तथा विभागीय अधिकारी सतत मॉनीटरिंग करें ताकि दिये गये समय में संयंत्र को पूरा करा लिया जाय। 

रीवा : यहाँ पढ़ें आज के 'सरकारी समाचार' 6

उल्लेखनीय है कि महिला आजीविका औद्योगिक सहकारी संस्था रीवा द्वारा 2500 में टन क्षमता का टेक होम राशन संयंत्र की स्थापना 16.50 करोड़ रूपये की लागत से की जा रही है जिसमें भवन निर्माण में 9 करोड़ प्लांट अन्य मदों में 7.50 करोड़ रूपये व्यय होंगे। संयंत्र से 2500 में टन पोषण आहार का उत्पादन होगा। जिसकी दर 60 हजार रूपये प्रति मे. टन होगी तथा रीवा, शहडोल, सीधी, सतना एवं सिंगरौली जिले के परियोजना स्तर तक पोषण आहार का प्रदाय किया जायेगा। संयंत्र से गर्भवती, धात्री महिलाओं के लिये गेंहू/सोया वर्फी, आटा, वेसन लड्डू, खिचड़ी, बच्चों के लिये हलुआ बाल आहार आदि का उत्पादन किया जायेगा। इसका वार्षिक टर्न ओवर 180 करोड़ रूपये होगा। इससे 80 व्यक्तियों को रोजगार मिलेगा तथा 100 अन्य व्यक्ति अन्य कार्यों में अप्रत्यक्ष रूप से लाभांवित होंगे। निरीक्षण भ्रमण के दौरान त्रियुगीनारायण शुक्ल, जनपद अध्यक्ष रायपुर कर्चुलियान भूपेन्द्र सिंह, अपर कलेक्टर इला तिवारी, अनुविभागीय .के. सिंह, क्षेत्रीय समन्वयक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी प्रदीप दुबे, ग्रामीण आजीविका मिशन के जितेन्द्र सिंह सहित अधिकारी, कर्मचारी ग्रामीण जन उपस्थित थे। 

रीवा : यहाँ पढ़ें आज के 'सरकारी समाचार' 7


निर्धारित मुख्यालय में न रहने वाले कर्मचारियों पर करें कार्यवाही – कलेक्टर 

अधिकारी नियमित रूप से भ्रमण करके प्रतिवेदन प्रस्तुत करें – कलेक्टर

रीवा 22 अक्टूबर 2019.  सभी अधिकारी नियमित रूप से भ्रमण करके विभागीय योजनाओं के क्रियान्वयन के निगरानी करें। हर माह की टूर डायरी बनाकर उसके अनुसार क्षेत्र का भ्रमण करें। सभी कार्यालय प्रमुख अपने विकासखंड तथा ग्राम स्तर पर पदस्थ अधिकारियों एवं कर्मचारियों का मुख्यालय निर्धारित करें। इन अधिकारियों तथा कर्मचारियों का निर्धारित मुख्यालय में रहने का प्रमाण पत्र 25 अक्टूबर तक प्रस्तुत करें। विकासखंड स्तर के कार्यालयों का आकस्मिक निरीक्षण किया जायेगा। सक्षम अधिकारी की अनुमति के बिना मुख्यालय से बाहर रहने वालों अधिकारियों तथा कर्मचारियों पर कड़ी कार्यवाही की जायेगी। 

उक्त आशय के विचार कलेक्टर ओमप्रकाश श्रीवास्तव ने कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित टीएल पत्रों की समीक्षा बैठक में व्यक्त किये। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी शासन की उच्च प्राथमिकता की योजनाओं पर विशेष ध्यान दें। विभागीय योजनाओं के निर्धारित लक्ष्यों की समय सीमा में पूर्ति सुनिश्चित करें। अपने कार्यालय के साथसाथ अधीनस्थ कार्यालयों पर भी ध्यान दें। गत सप्ताह जवा में आयोजित आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम में 700 से अधिक आवेदन पत्रों का प्राप्त होना चिंता जनक है इस स्थिति में सुधार नहीं हुआ तो कड़ी कार्यवाही की जायेगी। 

कलेक्टर ने कहा कि सीएम हेल्पलाइन के प्रकरणों पर अधिकारी समय सीमा में कार्यवाही करें। लंबित प्रकरणों की संख्या बढ़ रही है। इसमें लेवल 3 तथा 4 पर लंबित प्रकरणों के निराकरण पर भी विशेष ध्यान दें। बिजली विभाग में लंबित 2151 आवेदन पत्रों का अधीक्षण यंत्री निराकरण करायें। बिजली आपूर्ति के संबंध में लगातार शिकायतें मिल रही हैं। बिजली की नियमित आपूर्ति सुनिश्चित करें। लोक स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग, नगर निगम रीवा, सहकारिता विभाग, शिक्षा विभाग, अग्रणी बैंक प्रबंधक तथा स्वास्थ्य विभाग में भी सीएम हेल्पलाइन में बड़ी संख्या में प्रकरण लंबित हैं इनका निराकरण करना सुनिश्चित करें। सभी अधिकारी टीएल पत्रों के निराकरण का प्रतिवेदन प्रस्तुत करें। सीएम हेल्पलाइन टीएल तथा जनसुनवाई के आवेदन पत्रों का निराकरण ऑनलाइन दर्ज करायें। 

रीवा : यहाँ पढ़ें आज के 'सरकारी समाचार' 8

कलेक्टर ने कहा कि धान तथा अन्य मोटे आनाजों की समर्थन मूल्य पर खरीद के लिए किसानों के पंजीयन की अंतिम तिथि 25 अक्टूबर है। अब तक 43 हजार 117 किसानों का पंजीयन हुआ है। अंतिम तिथि की प्रतीक्षा किये बिना खाद्य विभाग तथा कृषि विभाग के अधिकारी शेष किसानों का पंजीयन करायें। उप संचालक पशु पालन ऐरा प्रथा को रोकने के लिए की जा रही वैधानिक कार्यवाही को प्रभावी बनाने के लिए सभी पशुओं की टैगिंग करायें। जिले में निर्माणाधीन 30 गौशालाओं में से कम से कम 10 गौशालाओं का निर्माण 15 नवम्बर तक पूरा करायें। उप संचालक जिले में फसल कटाई के लिए आने वाले हार्वेस्टर चलाने वालों पर कड़ी निगरानी रखें। भूसा बनाने की मशीन के साथ ही हार्वेस्टर से फसल काटने की अनुमति दी जायेगी। इसका उल्लंघन करने वालों पर वैधानिक कार्यवाही करें। जिला शिक्षा अधिकारी तथा मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी फोरलेन सड़क निर्माण से ग्राम अगडाल में क्षतिग्रस्त उनके शासकीय भवनों का एनएचआई से पुन: निर्माण करायें। इस संबंध में प्रभारी मंत्री जी ने भी निर्देश दिए हैं। 

रीवा : यहाँ पढ़ें आज के 'सरकारी समाचार' 9

बैठक में कलेक्टर ने जिला शिक्षा अधिकारी को सेन्ट्रल लाइवेरी में हर माह साहित्यिक गोष्ठी आयोजित करने के निर्देश दिए। उन्होंने जिला प्रबंधक गवर्नेंस को विन्ध्य महोत्सव के लिए शासन को तिथियों का प्रस्ताव भेजने तथा देउर कोठार एवं देवतालाब का पर्यटन की दृष्टि से विकास का प्रस्ताव भेजने के निर्देश दिए। बैठक में जन अधिकार कार्यक्रम के निर्धारित बिन्दुओं से संबंधित प्रकरणों की भी समीक्षा की गई। बैठक में अपर कलेक्टर इला तिवारी, सहायक कलेक्टर शिशिर गेमावत, संयुक्त कलेक्टर .के. झा, डिप्टी कलेक्टर शिवांगी अग्रवाल तथा संबंधित सभी अधिकारी उपस्थित रहे। 


गुणवत्ता के साथ गौशाला निर्माण कार्य पूर्ण कराये –मंत्री श्री कमलेश्वर पटेल 

पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री ने बकछेरा गांव में  निर्माणाधीन गौशाला का किया निरीक्षण 

रीवा 22 अक्टूबर 2019. प्रदेश के पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री कमलेश्वर पटेल ने रीवा जिले के रायपुर कर्चुलियान जनपद पंचायत अंतर्गत बकछेरा गांव में निर्माणाधीन गौशाला का निरीक्षण करते हुए निर्देश दिये कि गुणवत्ता के साथ नवम्बर माह तक निर्माण कार्य पूर्ण करा लिया जाय। उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ द्वारा प्रदेश में वेसहारा पशुओं के लिये गौशालाओं का निर्माण कार्य प्राथमिकता से कराया जा रहा है ताकि गौवंश की रक्षा हो तथा ऐरा प्रथा से निजात मिल सके। 

रीवा : यहाँ पढ़ें आज के 'सरकारी समाचार' 10

मंत्री जी ने गौशाला में पशुओं के लिये शेड, भूसा शेड सहित अन्य आवश्यक व्यवस्थायें सुनिश्चित कराने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि पानी के लिये वोरबेल करायें तथा चारे आदि की भी व्यवस्था हेतु पूर्व से कार्य योजना बना लें। उन्होंने निर्माण कार्य में लगे मजदूरों को समय पर मजदूरी भुगतान किये जाने के निर्देश भी दिये। उल्लेखनीय है कि जिले में 27 गौशालाओं के निर्माण का कार्य प्रगति पर है। बकछेरा में 27.62 लाख रूपये की लागत से गौशाला का निर्माण किया जा रहा है। भ्रमण के दौरान जनप्रतिनिधि अधिकारी उपस्थित थे। 


जनसुनवाई में 107 आवेदन पत्रों में की गई सुनवाई 

रीवा 22 अक्टूबर 2019. कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित जनसुनवाई में संयुक्त कलेक्टर अरविंद कुमार झा ने 107 आवेदन पत्रों में सुनवाई की। जनसुनवाई में सीमांकन, नामांतरण, प्रधानमंत्री आवास योजना, पेंशन प्रकरण, शौचालय निर्माण, अतिक्रमण हटाने सहित विभिन्न आवेदन पत्रों पर सुनवाई की गई। जनसुनवाई में सभी संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे। 

जनसुनवाई में बद्री सिंह निवारी ग्राम तमरा तथा रामावतार कनौजी ग्राम पथरौड्डा ने शौचालय निर्माण की राशि के लिए आवेदन दिया। इन पर कार्यवाही करने के लिए जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी को निर्देश दिये गये। शंकर लाल साकेत निवासी शिवराजपुर ने गांव के असामाजिक तत्वों द्वारा उन्हें डराने धमकाने एवं प्रताड़ित करने की शिकायत की। एसडीएम मऊगंज को प्रकरण में कार्यवाही के निर्देश दिये गये। बुद्धिलाल तिवारी निवासी अतरैला ने सीमांकन के लिए आवेदन दिया। संयुक्त कलेक्टर एसडीएम त्योंथर को आवेदन पत्र में कार्यवाही करने के निर्देश दिए। राम प्रताप विश्वकर्मा निवासी सितलहा ने अवैध रूप से संचालित बजरंग स्वसहायता समूह पर कार्यवाही के लिए आवेदन दिया।  जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी को प्रकरण की जांच कर कार्यवाही के निर्देश दिये गये। 

रीवा : यहाँ पढ़ें आज के 'सरकारी समाचार' 11

जनसुनवाई में चमेलिया साकेत निवासी टिकुरी नंदीलाल साकेत निवासी कोष्ठा तथा तीन अन्य आवेदकों ने प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ देने के लिए आवेदन दिया। इन सभी में उचित कार्यवाही के निर्देश जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी को दिये गये। गोविंद प्रसाद तिवारी बैकुण्ठपुर ने सरकारी जमीन से अतिक्रमण हटाने के लिए आवेदन दिया। प्रकरण में एसडीएम सिरमौर को कार्यवाही के निर्देश दिये गये। रामदुलारे वर्मा, चौकीदार जनपद पंचायत रीवा ने वेतन वृद्धि का लाभ देने के लिए आवेदन दिया। संयुक्त कलेक्टर ने जनपद के मुख्य कार्यपालन अधिकारी को नियमानुसार कार्यवाही के निर्देश दिये। सीमादेवी, सरपंच, ग्राम पंचायत बरौहा ने रोजगार सहायक ध्रुव कुमार द्वारा मनरेगा योजना में की गई अनियमितता की जांच के लिए आवेदन दिया। इस संबंध में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी को कार्यवाही के निर्देश दिये गये। जनसुनवाई में सोनाकली यादव निवासी इटौरा पति के मृत्यु प्रमाण पत्र के लिए आवेदन दिया। संयुक्त कलेक्टर ने एसडीएम हुजूर को तत्काल प्रमाण पत्र जारी कराने के निर्देश दिये। 


जिला स्तरीय चयन समिति की बैठक 24 अक्टूबर को

रीवा 22 अक्टूबर 2019. आदिवासी वित्त विकास निगम तथा आदिम जाति कल्याण विभाग में संचालित मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना एवं आर्थिक कल्याण योजना से अनुसूचित जनजाति के हितग्राहियों को लाभांवित किया जाता है। वर्तमान वित्तीय वर्ष के लिए पात्र हितग्राहियों का चयन किया जा रहा है। इसकी जिला स्तरीय चयन समिति की बैठक 24 अक्टूबर को दोपहर 2 बजे से जिला उद्योग कार्यालय रीवा में आयोजित की जा रही है। प्रभारी जिला संयोजक एस.के.एस. तिवारी ने समिति के सभी सदस्यों से बैठक में उपस्थित रहने का अनुरोध किया है। 


ध्वनि तथा वायु प्रदूषण को ध्यान में रखकर जलायें पटाखे

रात 10 से सुबह 6 बजे तक अधिक आवाज वाले पटाखों का उपयोग रहेगा प्रतिबंधित

रीवा 22 अक्टूबर 2019. क्षेत्रीय अधिकारी मध्यप्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने आमजनता से ध्वनि तथा वायु प्रदूषण को ध्यान में रखकर पटाखे जलाने की अपील की है। उन्होंने कहा है कि प्रकाश पर्व दीपावली खुशियों का त्यौहार है दीवाली जीवन में सुख और समृद्धि प्रकाश लेकर आती है। दीवाली के दौरान पटाखों का भारी मात्रा में उपयोग होता है। इससे ध्वनि तथा वायु प्रदूषण फैलता है। दीपावली में ग्रीन पटाखों का उपयोग करें। पर्यावरण मंत्रालय द्वारा जारी अधिसूचना के अनुसार 125 डेसिबल से अधिक आवाज वाले पटाखों की बिक्री खरीद तथा उपयोग पूरी तरह से प्रतिबंधित है। माननीय उच्चतम न्यायालय द्वारा रात 10 बजे से प्रात: 6 बजे तक अधिक आवाज करने वाले पटाखों का उपयोग पूरी तरह से प्रतिबंधित है। इसका उल्लंघन करने पर ध्वनि प्रदूषण नियंत्रण अधिनियम के तहत कार्यवाही की जायेगी। 

क्षेत्रीय अधिकारी ने आमजनता से अपील करते हुये कहा है कि पटाखों का सीमित मात्रा में उपयोग करें। अधिक आवाज वाले पटाखों का उपयोग करें। पटाखों तथा अन्य अतिशबाजी से उत्पन्न कचरे का ठीक से निपटान करें। अधजले पटाखें एवं अन्य विस्फोटक सामग्री प्राकृतिक जल स्त्रोतों में फेकें। इनके जल स्त्रोत में मिलने से घातक रसायन पानी में फैलेगा। सभी मुख्य नगर पालिका अधिकारी दीपावली के बाद नगर में विशेष सफाई कराकर निकाले गये कचरे का सुरक्षित निपटान करायें। जिससे वायु तथा जल प्रदूषण हो। पर्यावरण का सुरक्षित रहना मानव जीवन की सुरक्षा के लिए आवश्यक है। आमजनता त्यौहार मनाते समय पर्यावरण संरक्षण का ध्यान रखें। 


आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम आज मऊगंज विकासखण्ड में

रीवा 22 अक्टूबर 2019. आमजनता से प्राप्त आवेदन पत्रों का मौके पर निराकरण तथा आमजन को शासन की विभिन्न योजनाओं का लाभ देने के लिए जिले में आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम आयोजित किये जा रहे हैं। इस कार्यक्रम के तहत आज 23 अक्टूबर को मऊगंज में खण्डस्तरीय शिविर आयोजित किया गया है। शिविर दोपहर 2 बजे से आरंभ होगा जिसमें शासन की सभी प्रमुख योजनाओं तथा कल्याणकारी कार्यक्रमों की जानकारी दी जायेगी। कलेक्टर ओमप्रकाश श्रीवास्तव ने बताया कि शिविर में आमजनता से प्राप्त आवेदन पत्रों का मौके पर निराकरण किया जायेगा। 


ग्राम सीतापुर में ग्राम स्तरीय शिविर आज 

रीवा 22 अक्टूबर 2019. आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम के तहत मऊगंज विकासखण्ड के ग्राम सीतापुर में आज 23 अक्टूबर को प्रात: 9 बजे से ग्राम स्तरीय शिविर आयोजित किया गया है।

कलेक्टर ओमप्रकाश श्रीवास्तव ने जिला स्तर के अधिकारियों को इटमा ग्राम का भ्रमण कर विभागीय योजनाओं के क्रियान्वयन की समीक्षा करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि सभी अधिकारी ग्राम स्तरीय शिविर में शामिल होकर आमजनता की समस्याओं का मौके पर निराकरण करें। 


दलहन तथा तिलहन फसलों के लिए पंजीयन आज तक 

रीवा 22 अक्टूबर 2019. समर्थन मूल्य पर दलहन तथा तिलहन फसलों सोयाबीन, अरहर, उड़द, मूंग तथा तिल का उपार्जन निर्धारित खरीदी केन्द्रों में किया जा रहा है। इसके लिए किसानों का पंजीयन आज 23 अक्टूबर तक निर्धारित सभी खरीदी केन्द्रों में किया जायेगा। जिन किसानों ने गतवर्ष पंजीयन करा लिया है उन्हें नया पंजीयन कराने की आवश्यकता नहीं है। उनका पंजीयन राजस्व विभाग के गिरदाबरी एप पर कराया जा रहा है। पूर्व से पंजीकृत किसान एमपी किसान मोबाइल एप्लीकेशन से भी अपना पंजीयन का नवीनीकरण करा सकते हैं। केवल पंजीकृत किसानों को ही समर्थन मूल्य पर खरीदी का लाभ मिलेगा। 

इस संबंध में जिला आपूर्ति नियंत्रक राजेन्द्र सिंह ठाकुर ने बताया कि पंजीयन कराने के लिए किसान आधार कार्ड, बैंक पासबुक, समग्र आईडी अथवा पेन कार्ड, ऋण पुस्तिका की छायाप्रति प्रस्तुत करें। वनाधिकार पट्टाधारी किसान वनाधिकार पत्र की छायाप्रति तथा बटाई अथवा अधियां में खेती करने वाले किसान अनुबंध पत्र की प्रति प्रस्तुत करें। गतवर्ष की पंजीयन पर्ची की हस्ताक्षर प्रति भी प्रस्तुत करना आवश्यक होगा। पूर्व से पंजीकृत किसान अपने पंजीयन का नवीनीकरण निर्धारित पंजीयन केन्द्रों में अथवा एमपी किसान मोबाइल एप के द्वारा करा सकते हैं। जिला आपूर्ति अधिकारी ने दलहन तथा तिलहन उत्पादक किसानों से निर्धारित समय सीमा में पंजीयन कराकर उपार्जन में समर्थन मूल्य का लाभ उठाने की अपील की है। 


खुशियों की दास्तां

तीन हितग्राहियों के परिजनों को मिली आर्थिक सहायता 

रीवा 22 अक्टूबर 2019. राज्य शासन द्वारा चलाये जा रहे आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम में हितग्राहियों को जनपद स्तर पर ही शासन की योजनाओं का लाभ मौके पर प्राप्त हो रहा हे उन्हें सहायता राशि के लिये जिला स्तर पर आने की जरूरत नहीं पड़ रही है। 

जिले में आयोजित किये जा रहे आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम में गत दिनों जवा विकासखंड में आयोजित शिविर में तीन हितग्राहियों की मृत्यु पर उनके परिजनों को चारचार लाख रूपये की सहायता राशि प्रदान की गयी। जवा जनपद अंतर्गत पटहट निवासी केशकली कोल के परिजन भाईलाल कोल, बीरपुर निवासी आशा कुशवाहा के परिजन सुरेश कुशवाहा एवं अट्ठइसा निवासी राजेश कुमार केवट के परिजन गुलाबकली केवट को सर्पदंश से हुई मृत्यु पर चारचार लाख रूपये की सहायता राशि आरबीसी (6) के तहत स्वीकृत की गयी है।


खुशियों की दास्तां

दो लाख प्रोत्साहन राशि पाकर शर्मिला की चल पड़ी गृहस्थी की गाड़ी

रीवा 22 अक्टूबर 2019.  बदौआ ग्राम की रहने वाली शर्मिला साकेत का विवाह बेलहा नानकार ग्राम के राहुल तिवारी से विवाह हुआ। अंतर्जातीय विवाह प्रोत्साहन योजना के तहत अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जनजाति की कन्या अथवा वर से विवाह करने वाले अनारक्षित वर्ग के व्यक्ति को दो लाख रूपये प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाती है। इसी योजना के तहत शर्मिला साकेत एवं राहुल तिवारी को दो लाख रूपये प्रोत्साहन राशि प्रदान किये गये। 

शर्मिला साकेत ने कहा कि विवाह के बाद दो लाख रूपये प्रोत्साहन राशि मिलने से हमारी नई गृहस्थी आराम से चलेगी। अब किसी प्रकार की कठिनाई नहीं होगी। गृहस्थी के लिये आवश्यक सामग्री उपरोक्त राशि से खरीद लेगी। उन्होंने कहा कि यह योजना बहुत अच्छी है इसकी सहायता से गृहस्थी चलाने में मदद मिलेगी। 


द्वारा : संभागीय जनसंपर्क कार्यालय रीवा
मध्यप्रदेश शासन

Facebook Comments
Please Share this Article, Follow and Like us:
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •