रीवा : अध्यक्ष अभय मिश्र और उपाध्यक्ष विभा पटेल की होने लगी नोकझोक, सवा घंटे तक होता रहा हंगामा 1

रीवा : अध्यक्ष अभय मिश्र और उपाध्यक्ष विभा पटेल की होने लगी नोकझोक, सवा घंटे तक होता रहा हंगामा

Rewa

रीवा. जिला पंचायत सभागार में जिपं सामान्य सभा की सदन प्रारंभ होते ही हंगामा शुरू हो गया। सदस्यों ने पिछली बैठक की कार्रवाई निरस्त किए जाने के हिसाब-किताब को लेकर जिपं सीइओ को घेरा तो भाजपा सर्मथित जिपं उपाध्यक्ष सीइओ के सर्मथन में आ गर्ईं। बैठक में अध्यक्ष अभय मिश्र और उपाध्यक्ष विभा पटेल की नोकझोक होने लगी। दोनों एक दूसरे पर मनमानी का भी आरोप प्रत्यारोप लगाए। अध्यक्ष ने उपाध्यक्ष से कहा बगैर अनुमति बोलने का आधिकार नहीं है। इस पर उपाध्यक्ष ने कहा, सदन में मुद्दा रखने का आधिकार है। बात इतना बढ़ गई कि सदन का बहिष्कार कर उपाध्यक्ष ने कहा मैं शिक्षा समिति की चेयरमैन हूं सदन में मुद्दा रखेंगे, इस तरह की मनमानी व्यवस्था पर स्तीफा देती हूं…।

पिछले बैठक निरस्त की जानकारी पर अड़े रहे सदस्य
जिपं अध्यक्ष अभय मिश्र की अध्यक्षता में दो बजे से सामान्य सभा की बैठक की कार्यवाही शुरू हुई। अध्यक्ष ने पंचायतीराज व्यवस्था की गाइड लाइन को बताते हुए अध्यक्ष, सचिव व सदस्यों के अधिकार की जानकारी दी। जैसे ही सदन की कार्यवाही शुरू हुई कि सदस्य प्रमोद कुशवाहा ने प्रस्ताव लाया सीइओ जिपं अर्पित वर्मा बताएं कि पिछली बैठक क्यों निरस्त कर दी गई। जिससे दो माह का समय नष्ट हुआ। सीइओ ने पंचायत की गाइड लाइन बताने की कोशिश की तो सदस्यों ने हंगामा शुरू कर दिया। तभी भाजपा समर्थित उपाध्यक्ष विभा पटेल सीइओ का समर्थन करते हुए कहा कि चार साल बीत गए, जनता की अवाज के बजाए अधिकारियों के खिलाफ निंदा प्रस्ताव के अलावा कुछ नहीं किया गया। इस पर अध्यक्ष अभय मिश्र ने हस्तक्षेप करते हुए कहा कि सदन में बगैर अध्यक्ष के अनुमति लिए किसी को बोलने का अधिकार नहीं है।

उपाध्यक्ष ने अध्यक्ष का किया विरोध
उपाध्यक्ष ने विरोध करते हुए कहा कि सदन में मुझे प्रस्ताव रखने का अधिकार है। उपाध्यक्ष होने के नाते मै बोल सकती हूं। बात बढ़ी तो अध्यक्ष और उपाध्यक्ष में नोकझोक होने लगी। कुछ सदस्यों के हस्तक्षेप पर हंगामा शांत हुआ। बैठक की कार्रवाई जैसे जी अगे बढ़ी कि भाजपा विधायक गिरीश गौतम के प्रतिनिध ने कहा सामान्य सभा की बैठक ९ माह बाद हो रही है। यह बैठक हर माह होनी चाहिए। अध्यक्ष ने जवाब दिया। इसके बाद बैठक में अधिकारियों की अनुपस्थित को लेकर सदन के सदस्यों ने नाराजगई जताई।

सवा घंटे तक होता रहा हंगामा
बैठक की कार्यवाही चालू होने के बाद करीब सवा घंटे तक हंगामा होता रहा। बैठक में कई योजनाओं पर विस्तृत चर्चा की गई। सदस्यों के द्वारा अहम फैसले लिए गए हैं। बैठक के दौरान प्रभाकर सिंह, अशोक सिंह, जोखूलाल, बाबूलाल, अंजू यादव, बृजेश सिंह, राजेन्द्र मिश्र, शिवकली नट, सरोज पटेल सहित अन्य सदस्य मौजूद रहे।

Facebook Comments
Please Share this Article, Follow and Like us:
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •