रीवा: बदमाशों ने ट्रक चालक से मोबाइल मांगा, नहीं दिया तो कर दी हत्या 1

रीवा: बदमाशों ने ट्रक चालक से मोबाइल मांगा, नहीं दिया तो कर दी हत्या

Rewa Crime

रीवा। चावल की खेप लेकर आए ट्रक चालक से बीती रात कुछ तत्वों ने उसका मोबाइल मांगा चालक द्वारा इंकार करने पर उसके साथ मारपीट शुरू कर दी और अंतत: बचने के लिए भाग रहे इस चालक का पीछा कर उसकी हत्या कर दी । सिविल लाइंस थाना क्षेत्र अंतर्गत अमहिया स्थित गल्ला मण्डी में यह घटना बीती रात हुई है। सुबह लाश मिलने पर पुलिस पहुंची और तफ्तीश शुरू की। मृतक सतना जिले का है।

घटना को लेकर जो जानकारी सामने आ रही है, उसके मुताबिक सतना जिले के नागौद थाना क्षेत्र अंतर्गत अतरवेदिया खुर्द निवासी नर्मदा प्रसाद दाहिया का पुत्र रामचंद्र 35 वर्ष बीती रात ट्रक में चावल की खेप लेकर मण्डी आया। लेकिन बारिश होने की वजह से चावल नहीं उतार पाया था। बताया जा रहा है कि रात लगभग एक बजे ट्रक चालक रामचन्द्र ने खलासी के रूप में मौजूद अपने नाबालिग भाई को पन्नी में भरे पानी को निकालने के लिए ट्रक पर चढ़ाया। इसी बीच तीन लोग आए और रामचन्द्र से मोबाइल मांगने लगे। रामचन्द्र ने मोबाइल देने से मना किया। जिस पर मारपीट होने लगी। ट्रक चालक यहां से भागा और उन युवकों ने पीछा कर लिया। जिसे कुछ दूरी पर पकड़ने के बाद चेहरे पर गंभीर प्रहार किए गए, जिससे उसकी मौत हो गई।

कैश सुरक्षित, मोबाइल गायब
मृतक का मोबाइल गायब है। लेकिन उसका पर्स सुरक्षित मिला है। पर्स में 16 सौ रूपये रखे थे। इसके अलावा मृतक का वोटर कार्ड सहित कई विजिटिंग कार्ड भी मिले हैं। पुलिस द्वारा इस घटना की गुत्थी सुलझाने के लिए कई लोगों को हिरासत में लिया गया है। पुलिस दिन भर इस क्षेत्र में तफ्तीश में जुटी रही।

रात भर तलाशता रहा भाई
ट्रक में चालक का छोटा भाई और बुआ का नाती(दोनो नाबालिग) भी थे। घटनास्थल के आसपास काफी अंधेरा होने की वजह से छोटा भाई डरा-सहमा रहा। मण्डी में और भी ट्रक खड़े थे, जिनके चालको को उठाया और घटना बताई। रामचन्द्र के मोबाइल पर अन्य चालको ने कॉल कर उससे छोटे भाई की बात करानी चाही, लेकिन बात नहीं हुई। इसके बाद उसकी इधर-उधर तलाश करने लगे। लेकिन कहीं पता नहीं चला। सुबह लाश मिली।

ढाई सौ मीटर दूर मिली लाश
ट्रक को मण्डी में हनुमान मंदिर के पास खड़ा किया गया था। सुबह रिफ्यूजी कॉलोनी में ट्रक चालक की लाश मिली। जहां ट्रक खड़ा था, वहां से इस स्थान की दूरी लगभग ढाई सौ मीटर है। रास्ते में कई जगह गिरा मिला है।

एफएसएल टीम ने की जांच
इस घटना की जानकारी मिलते ही टीआई शशिकांत चौरसिया मौके पर पहुंच गए। एफएसएल टीम भी मौके पर पहुंची। बताया जा रहा है कि चोट इतनी गंभीर नहीं थी। लेकिन खून ज्यादा बह जाने की वजह से मौत हो गई। यदि समय पर उपचार मिल जाता, तो जान बच सकती थी।

Facebook Comments
Please Share this Article, Follow and Like us:
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •