रीवा: रविवार की सुबह से फिर जारी है बूंदाबांदी1 min read

Rewa

रीवा। आखिरकार जिस मौसम को लेकर किसान चिंतित हो रहे थे उस मौसम का असर जिले में रविवार की सुबह से देखने को मिल रहा है। रविवार की अल सुबह 5 बजे से बूदाबांदी होने के साथ ही आकाश में काले घने बादल छाए हुए हैं। विशेषज्ञों का मानना है कि आगामी 24 घंटे के अंतराल में जिले के अंदर बारिश होगी। हालांकि बारिश का रुख बूंदाबांदी तक ही रहेगा और 2 से 3 मिमी बारिश जिले में होने की संभावना जताई जा रही है। बदले इस मौसम और हो रही रिमझिम बारिश को बेमौसम वर्षा होना विशेषज्ञ बता रहे हैं। मौसम में आए इस बदलाव की वजह पश्चिमी विक्षोभ है। जिस तरह से मौसमी बदलाव आया है उसका असर पूर्वी मप्र में भी पड़ रहा है। जिसके चलते बादलों के साथ रिमझिम बारिश हो रही है। इसका असर आगामी एक से दो दिन तक रहेगा।

ओले को लेकर किसान चिंतित
जिस तरह से मौसम में बदलाव आया है और आकाश में बादलों के साथ रिमझिम बारिश हो रही है उसे देखते हुए किसानों की चिंता भी बढ़ गई है। किसानों का कहना है कि ऐसे मौसम में ओले गिरने की संभावना बढ़ जाती है। जबकि विशेषज्ञों की माने तो पूर्वी मप्र में जो मौसम का मिजाज बना हुआ है उससे ओले पड़ने की संभावना नहीं है। एक और दो दिन बादल और रिमझिम बारिश हो सकती है।

हालांकि प्रकृति ने फिर करवट लिया और मौसम तेज होने के साथ ही ओले गिरते हैं तो इससे किसानों को काफी नुकसान होगा। मौसम का मिजाज तेज होता है तो खेतों में खड़ी फसल व खलिहान में रखे हुए गहाई के लिए फसलों पर असर पड़ेगा। किसान करहिया निवासी प्रदीप शुक्ला ने बताया कि इन दिनों खेतों में फसलें तैयार हैं। चना, मसूर, सरसो आौर अरहर की फसल पक गई है। जबकि गेहूं के फसल में बाली आ गई है। सभी फसलों में प्रकृति की मार तेज होती है तो उसका असर पड़ेगा।

Facebook Comments