रीवा जिले के सात BJP विधायकों ने सीएम कमलनाथ को कही ये बात, सुनकर आप भी रह जाएंगे दंग1 min read

Madhya Pradesh Rewa

रीवा. भाजपा विधायको और संगठन के पदाधिकारियों ने कलेक्टर कार्यालय के सामने धिक्कार दिवस मनाया। इस दौरान पूर्व मंत्री व विधायक राजेन्द्र शुक्ल सहित विधायको ने कांग्रेस सरकार को घेरा और कहा कि प्रदेश की कमलनाथ सरकार अल्पमत में है। इस दौरान विधायकों ने विरोध स्वरूप गिरफ्तारी दी। राज्यपाल को संबोधित जिला प्रशासन को ज्ञापन सौंपा। भाजपा नेताओं को कलेक्ट्रेट से गिरफ्तार कर सिविल लाइन पुलिस कन्ट्रोल रूम ले जाकर रिहा किया गया।

प्रदेश में आराजकता का बढ़ रहा माहौल
विधायक राजेन्द्र शुक्ल ने कहा, प्रदेश की कानून- व्यवस्था बिगड़ गई है। कांग्रेस के सत्ता में आते ही पूरा प्रदेश अराजकता की ओर बढ़ चुका है। कांग्रेस की सरकार में गरीबों के आवासों की किस्ते बंद कर दी गई है। विधायक ने कांग्रेस की सरकार को अल्पमत में बाते हुए कहा कि भाजपा को कांग्रेस से 48 हजार ज्यादा बोट मिले हैं।

दो लाख किसानों का कर्ज माफ करने का वादा काफूर
दो लाख किसानो का कर्ज माफ करने का वायदा काफूर हो चुका है। राहुल गांधी ने कहा था कर्ज माफ नहीं होने पर 10 दिन में मुख्यमंत्री बदल देंगे आज 76 दिन हो चुके हैं। कांग्रेस की सरकार रंग विरंगे फार्म भरवाकर रंग बदल चुकी है। कांग्रेस सरकार के मंत्री सत्ता के नशे में देशी और विदेशी शराब पिलाने की बात कर रहे हैं और प्रदेश को नशे की ओर ले जाना चाहते हैं।

वायदों के विपरीत काम कर रहे प्रदेश सरकार
मऊगंज विधायक प्रदीप पटेल ने वचन पत्र की बिन्दुवार चर्चा करते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी ने वचन पत्र में जो वायदे किए थे ठीक उसके विपरीत आचरण कर रही है। न तो पेट्रोल डीजल से वैट कम किया गया और न ही बेरोजगार युवाओं को भत्ता। कर्मचारियों का स्थानान्तरण करके परेशान और प्रताडि़त करने का काम सरकार कर रही है। विधायक दिव्यराज सिंह ने कहा कांग्रेस की सरकार किसानों को छल रही है।

कांग्रेस के रीति-नीति और नियम में खोट
विधायक पंचूलाल प्रजापति ने प्रदेश सरकार की नीति, रीति नियत पर खोट बताते हुए कहा कि कांग्रेस के राज्य में जन जन असुरक्षित है। हत्याओं और भ्रष्टाचार का खुला खेल शुरू हो चुका है। त्योथर विधायक श्यामलाल द्विवेदी ने कहा कि सुनलो कमलनाथ किसानो के साथ धोखाधड़ी का खेल नहीं होगा। वरिष्ठ नेता केशव पाण्डेय, प्रदेश मंत्री पूर्व सांसद बुद्धसेन पटेल, महापौर ममता गुप्ता, सत्यमणि पाण्डेय, राजभान सिंह पटेल, विवेक गौतम ने भी प्रदेश सरकार को बचन पत्र पूरा न करने का आरोप लगाया। धरने का संचालन जिला महामंत्री प्रबोध ब्यास ने किया।

कंट्रोलरूम से रिहा हुए भाजपाई
कलेक्ट्रेट कार्यालय के सामने भाजपा विधायक सहित कार्यकर्ता धरना स्थल के बाद कलेक्टर कार्यालय की ओर बढ़े। गेट पर ही पुलिस ने गिरफ्तारी कर डग्गा में ठूस दिया। करीब पचास मीटर दूर स्थित कंट्रोलरूम के सामने मुचलके पर छोड़ दिया। इस दौरान एसडीएम हुजूर विकास ङ्क्षसह, तहसीलदार जितेन्द्र तिवारी सहित भारी संख्या में पुलिस बल मौजूद रहा।

Facebook Comments