High Court से रीवा महापौर ममता गुप्ता को बड़ा झटका, यहाँ पढ़ें पूरी खबर….

Jabalpur Madhya Pradesh Rewa

रीवा/जबलपुर। मध्यप्रदेश हाईकोर्ट ने रीवा महापौर ममता गुप्ता की याचिका पर राहत नहीं दी। याचिकाकर्ता महापौर की ओर से वह नोटिस निरस्त करने पर बल दिया गया था, जिसके जरिए पद से हटाने की चेतावनी दी गई है।

इस पर हाईकोर्ट ने साफ किया कि नोटिस नियमानुसार जारी किया गया है, जिसका नियमानुसार जवाब प्रस्तुत किया जाए। चूंकि नोटिस दुर्भावनावश जारी नहीं किया गया है, अत: उसे निरस्त करने की मांग मंजूर नहीं की जा सकती। हालांकि सरकार को यह निर्देश अवश्य दिया जाता है कि वह याचिकाकर्ता को नोटिस के परिप्रेक्ष्य में अपेक्षित दस्तावेज मुहैया कराए, ताकि वह अपना जवाब प्रस्तुत कर सके।

बुधवार को न्यायमूर्ति सुजय पॉल की एकलपीठ के समक्ष मामले की सुनवाई हुई। इस दौरान याचिकाकर्ता रीवा महापौर ममता गुप्ता की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता पुरुषेन्द्र कौरव ने पक्ष रखा। उन्होंने दलील दी कि यह मामला भी छिंदवाड़ा महापौर के खिलाफ राजनीतिक दुर्भावनावश नोटिस जारी किए जाने जैसा ही है।

इस पर राज्य शासन की ओर से शासकीय अधिवक्ता विवेकरंजन पाण्डेय ने विरोध किया। उन्होंने साफ किया कि वित्तीय अनियमितता के गंभीर आरोपों के चलते नोटिस जारी किया गया है, ऐसे में सत्तापक्ष की ओर से विपक्षी पार्टी से संबंधित महापौर को परेशान करने के आरोप में सच्चाई नहीं है।

इस पर याचिकाकर्ता की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता कौरव ने नोटिस का जवाब प्रस्तुत करने के लिए दस्तावेज मुहैया कराने पर बल दिया। हाईकोर्ट ने यह मांग तो मंजूर कर ली लेकिन नोटिस निरस्त करने की मांग दरकिनार करते हुए याचिका का पटाक्षेप कर दिया।

Facebook Comments
Please Share this Article, Follow and Like us:
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •