रीवा के ये गांव जिन्हे मिलेगा शहर का दर्जा, पढिये कही आपका गांव भी तो नही है शामिल, जारी हुआ आदेश ….

Rewa

रीवा। हर के सीमा विस्तार के लिए नोटिफिकेशन जारी कर दिया गया है। अब लोगों से महीने भर दावा-आपत्तियां ली जाएंगी। नोटिफिकेशन के लिए दस फरवरी की तिथि अंतिम थी लेकिन रविवार के अवकाश के चलते नोटिफिकेशन सोमवार को किया गया है। अब शहर बड़ा होगा और करीब ८० से अधिक इसमें वार्ड हो जाएंगे। दावा-आपत्तियों के लिए १० मार्च तक का समय दिया गया है। इसके अलावा वार्डों की संख्या की अधिसूचना का प्रकाशन- २० मार्च तक होना है। वार्डों की सीमाओं के निर्धारण का प्रकाशन २५ मार्च तक, दावे-आपत्तियों की सुनवाई तथा निराकरण ५ अप्रैल तक, वार्ड विभाजन का अंतिम प्रकाशन २० मई तक, वार्डों के आरक्षण की कार्यवाही ५ जून तक, वार्ड आरक्षण अधिसूचना २० जून तक एवं महापौर के पद का आरक्षण २५ जून को किया जाएगा। शहर का विस्तार हो इसमें कुछ राजनीतिक अड़ंगे भी लगाए जा रहे हैं।

गत दिवस नगर निगम परिषद की बैठक थी, जिसमें भाजपा के पार्षदों ने खुलकर विरोध किया था। यहां तक की एमआइसी के जो सदस्य इसे अनुमति दे चुके हैं वह भी परिषद में विरोध पर उतर आए थे। मास्टर प्लान २०२१ में प्रस्ताव दिया था कि शहर से लगे ३९ गांवों को नगर निगम सीमा क्षेत्र में शामिल किया जाए। इसी प्रस्ताव के तहत सीमा विस्तार की तैयारी की जा रही है। मास्टर प्लान में प्रमुख रूप से नीगा, रमकुई, गोड़हर, अमरैया, तुरकहा, दुआरी, करहिया, मैदानी , केमार, बिड़वा देवार्थ, अटरिया, मढ़ी, किटवरिया, अजगरहा, उमरिहा, सिरखिनी, बरा (३९५), बरा (३९३), इटौरा, भाटी , सोनौरा, पुरैना, बेलहा(४५१), बेलहा, कोष्टा, भुंडहा , गड़रिया, जिवला, सिलपरा, डकवार, सिलपरी, बैसा , मगुरहाई, रमपुरवा, रौसर , पिपरा(३७६), पिपरा (३७५), खोखम आदि गांवों को शहर में शामिल करने का प्रस्तव दिया गया है।

छह नए गांव भी जोड़े जाएंगे
शहरी सीमा में छह उन गांवों को भी शामिल करने का प्रस्ताव है जो मास्टर प्लान में नहीं थे। ये गांव रिंगरोड और बायपास के भीतर के बताए गए हैं। इसमें प्रमुख रूप से लोही, खौर १४७, हरिहरपुर, तिघरा, कोठी एवं अल्ला नगरी आदि शामिल हैं। इन गांवों के संबंध में भी दावा-आपत्तियां मंगाई गई हैं।

Facebook Comments
Please Share this Article, Follow and Like us:
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •