REWA से जाने वाली इस ट्रेन से रहे सावधान, नहीं हो जायेगा बड़ा हादसा 1

REWA से जाने वाली इस ट्रेन से रहे सावधान, नहीं हो जायेगा बड़ा हादसा

Rewa Bilaspur Chhattisgarh

रीवा. रीवा -चिरमिरी सवारी गाड़ी में शनिवार की सुबह महिला यात्री का बैग छीनकर चलती ट्रेन से चोर भाग निकला। इस दौरान महिला ने चोर का हाथ भी पकड़ लिया था लेकिन अपनी सुरक्षा देखकर घबरा गई और उसको छोड़ दिया। सुबह चार बजे यह घटना रीवा-सतना रेलमार्ग के सतना स्टेशन के आऊटर के पास हुई। इसके बाद महिला व उसके पति ने रीवा पहुंचकर जीआरपी थाना में एफआइआर दर्ज कराई। जीआरपी ने मामला दर्ज कर जांच के लिए सतना भेज दिया है।

बताया जा रहा बैकुंठपुर की महिला यात्री सविता पति प्रहलाद गुप्ता रीवा-चिरमरी सवारी गाड़ी के कोच एस 2 में 71 एवं 72 बर्थ में बिजुरी से सफर कर रीवा आ रही थी। शनिवार को जैसे ही ट्रेन सतना प्लेटफार्म से आगे बढ़ी कुछ दूर चलते ही एक युवक ने ट्रेन की चैन खीची। जैसे ही ट्रेन की रफ्तार कम हुई वह महिला का किनारे रखा बैग लेकर भागने लगा। महिला चोर का हाथ पकड़ लिया है लेकिन ट्रेन के बाहर गिरने के डर से छोड़ दिया। वहीं चलती ट्रेन से कूदकर चोर फरार हो गया। बैग में सोने का मंगलसूत्र, सात हजार रुपए नगद एवं कान के बाले थे। घटना से कोच में अफरा-तफरी का माहौल निर्मित हो गया है। ट्रेन रुकने के बाद अंधेरे का फायदा उठाते हुए चोर भागने में सफल रहा। बताया जा रहा है कि रीवा-चिरमरी ट्रेन गाड़ी में रात में कोई जीआरपी एवं आरपीएफ की पेट्रोलिंग नहीं चलती, आएदिन चोरी की घटनाएं सामने आती है।

अक्सर होती वारदात, नहीं होती कार्रवाई
चिरमिरी से रीवा तक जाने वाली पैसेंजर ट्रेन में सतना से यात्रा करने वाले एक यात्री ने कहा कि हर पखवाड़े में एेसी ही एक घटना सतना स्टेशन से टे्रन चलते ही होती है। इसके अलावा रीवा-बिलासपुर एवं रेंवाचल एक्सप्रेस इन तीनों ट्रेनों में सबसे अधिक चोरियां सतना एवं कटनी के बीच हो रही है। इसके बावजूद जीआरपी एवं आरपीएफ यात्रियों को सुरक्षा नहीं दे पा रही है। बताया जा रहा है इनमें सिर्फ रेवांचल एक्सप्रेस में सुरक्षा गार्ड चलते हैं। जबकि रीवा-बिलासपुर एवं रीवा चिरमरी से गार्ड नहीं होने के कारण अक्सर इन स्टेशनों के बीच यात्रियों की सामग्री चोरी होती है। चोर पकड़े भी नहीं जाते जिससे उनके हौसले बढ़े हुए हैं।

Facebook Comments
Please Share this Article, Follow and Like us:
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •