नॉर्थ

अमित शाह ने पर्यटन, संस्कृति और व्यवसाय को बढ़ावा देने के लिए डेस्टिनेशन नॉर्थ ईस्ट -2020 लॉन्च किया

अमित शाह ने पर्यटन, संस्कृति और व्यवसाय को बढ़ावा देने के लिए डेस्टिनेशन नॉर्थ ईस्ट -2020 लॉन्च किया Best Sellers in Electronics केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने रविवार को क्षेत्र के पर्यटन, संस्कृति, विरासत और व्यवसाय को बढ़ावा देने और प्रदर्शन करने के लिए चार दिवसीय उत्सव डेस्टिनेशन नॉर्थ ईस्ट 2020 का उद्घाटन किया। […]

Continue Reading
पर्यटकों

Darjeeling, Kalimpong पर्यटकों के लिए खुला, Sikkim अक्टूबर से खुलने को तैयार

Darjeeling, Kalimpong पर्यटकों के लिए खुला, Sikkim अक्टूबर से खुलने को तैयार टॉप 10 EARPHONES जो AMAZON पर 1000 रुपए के अंदर मिल रहे हैं इस क्षेत्र में हर साल 10 लाख से अधिक पर्यटक आते हैं। इस साल, हालांकि, कोविद19 महामारी और लॉकडाउन के कारण, हिल स्टेशन मार्च से पूरी तरह से बंद थे। […]

Continue Reading
मध्यप्रदेश के रीवा में स्थित है दुनिया का एक मात्र ‘महामृत्युंजय मंदिर’, जहां होती है ‘अकाल मृत्यु’ से रक्षा

मध्यप्रदेश के रीवा में स्थित है दुनिया का एक मात्र ‘महामृत्युंजय मंदिर’, जहां होती है ‘अकाल मृत्यु’ से रक्षा

मध्यप्रदेश के रीवा में स्थित है दुनिया का एक मात्र ‘महामृत्युंजय मंदिर’, जहां होती है ‘अकाल मृत्यु’ से रक्षा: आपने कभी न कभी किसी परिचित को ज्योतिषी या विद्वान् पंडित द्वारा ‘महामृत्युंजय’ मंत्र के जाप की सलाह दिए जाने की बात अवश्य सुनी होगी। आपको ये भी पता होगा कि महामृत्युंजय मंत्र भगवान शिव का […]

Continue Reading
मध्यप्रदेश के रीवा में स्थित है दुनिया का एक मात्र ‘महामृत्युंजय मंदिर’, जहां होती है ‘अकाल मृत्यु’ से रक्षा

रीवा में मौजूद है दुनिया का एक मात्र ‘महामृत्युंजय मंदिर’, जहां होती है ‘अकाल मृत्यु’ से रक्षा

आपने कभी न कभी किसी परिचित को ज्योतिषी या विद्वान् पंडित द्वारा ‘महामृत्युंजय’ मंत्र के जाप की सलाह दिए जाने की बात अवश्य सुनी होगी। आपको ये भी पता होगा कि महामृत्युंजय मंत्र भगवान शिव का ही एक स्वरूप है, जो अकाल मृत्यु व असाध्य रोग नाशक है। परन्तु संसार में भगवान आशुतोष के महामृत्युंजय […]

Continue Reading

यही से करे मैहर वाली माँ देवी का दर्शन, नहीं करे माता को Ignore, सिर्फ एक क्लिक करके करे दर्शन

सतना। हिंदू नव वर्ष के साथ ही आज से चैत्र नवरात्र प्रारंभ हो गया है। इन 9 दिनों में देवी मंदिरों में भक्तों का सैलाब उमड़ेगा। मैहर में मां शारदा देवी मंदिर में भी लाखों श्रद्धालुओं के पहुंचने की संभावना है। जिसकी शुरुआत आज से हो गई है। सुबह से ही शारदा भवानी के मंदिर […]

Continue Reading

विंध्य में मिला दुनिया का 9वां अजूबा, वह भी ऐसा जिसे देखकर हैरत में पड़ जाते हैं लोग…

सिंगरौली। हम आपको ऐसे हुनर से परिचित कराने जा रहे है जिसकी कल्पना आपने कभी नहीं की होगी। यह हुनर देख आप कह उठेंगे अद्भुत, अकल्पनीय और अविश्वसनीय। भले ही यह हुनर देश में चर्चा का विषय अभी नहीं बना बन पाया हो पर इसके कायल विदेशी जरूर हैं वे इसे विश्व का 9वां अजूबा […]

Continue Reading

विंध्य में मिला दुनिया का 9वां अजूबा, वह भी ऐसा जिसे देखकर हैरत में पड़ जाते हैं लोग…

सिंगरौली। हम आपको ऐसे हुनर से परिचित कराने जा रहे है जिसकी कल्पना आपने कभी नहीं की होगी। यह हुनर देख आप कह उठेंगे अद्भुत, अकल्पनीय और अविश्वसनीय। भले ही यह हुनर देश में चर्चा का विषय अभी नहीं बना बन पाया हो पर इसके कायल विदेशी जरूर हैं वे इसे विश्व का 9वां अजूबा […]

Continue Reading
90 फीसदी लोगों को नहीं मालूम, रेलवे स्‍टेशन बोर्ड पर क्‍यों लिखी जाती है समुद्र तल की ऊंचाई, क्या आप जानतें हैं ?

90 फीसदी लोगों को नहीं मालूम, रेलवे स्‍टेशन बोर्ड पर क्‍यों लिखी जाती है समुद्र तल की ऊंचाई, क्या आप जानतें हैं ?

भोपालः क्या आपने कभी अंदाजा़ लगाया है कि, रेलवे स्टेशन के मुख्य बोर्ड पर समुद्र तल की ऊंचाई क्यों लिखी होती है, आखिर इसका कारण क्या है? देश की बड़ी आबादी को इसके पीछे का कारण नहीं पता। हमारी नज़रों के सामने अकसर ऐसी कई चीजें आती हैं, जिससे जुड़े कुछ भी सवाल हमारे दिमाग […]

Continue Reading

रीवा: बीहर नदी में बनेगा देश का तीसरा रिवर फ्रंट, पचमठा मंदिर का होगा सौंदर्यीकरण, उद्योग मंत्री ने किया भूमिपूजन

रीवा शहर के मध्य से निकलने वाली बीहर नदी में बाबाघाट (विक्रम पुल) से राजघाट (किला रीवा) तक सौन्दर्यीकरण का कार्य किया जाकर पाथवे बनाया जायेगा। इस प्रकार यह रिवर फ्रंट देश में बनने वाला तीसरा रिवर फ्रंट होगा। इसके साथ ही आदि शंकराचार्य जी द्वारा स्थापित पंचम मठ (पचमठा) का विकास कार्य कर इसका […]

Continue Reading

जानिए आखिर बिहार के गया में ही क्यों होता है पिंडदान और मिलता है मोक्ष….

पटना। आश्विन महीने के कृष्ण पक्ष प्रतिपदा से अमावस्या तक 15 दिनों तक का समय पितृपक्ष का होता है। मान्यता के अनुसार पिंडदान मोक्ष प्राप्ति का एक सहज और सरल मार्ग है। मनुष्य पर देव ऋण, गुरु ऋण अौर पितृ ऋण होते हैं। माता-पिता की सेवा करके मरणोपरांत पितृपक्ष में पूर्ण श्रद्धा से श्राद्ध करने […]

Continue Reading