पति ने Fevikwik से ली पत्‍नी की जान, बच्‍चों ने पहुंचाया सलाखों के पीछे

क्राइम

विदिशा : विदिशा में 40 वर्षीय एक व्यक्ति ने कथित तौर पर पत्नी के मुंह, नाक और आंख में फेवीक्विक ग्‍लू (चिपकने वाला सिन्थेटिक ग्लू) डाल दिया. इससे दम घुटने से महिला की मौत हो गई. कोतवाली पुलिस थाने के प्रभारी निरीक्षक आरएन शर्मा ने शनिवार (4 अगस्‍त) को बताया कि राजपूत कॉलोनी में रहने वाले हल्केराम कुशवाह (40) ने शुक्रवार को अपनी पत्नी दुर्गा बाई के मुंह, नाक और आंख में फेवीक्वीक ग्लू डाल दिया. इससे दम घुटने से दुर्गा बाई की मौत हो गई.

बच्‍चों ने की थी पुलिस में शिकायत
पुलिस ने बताया कि आरोपी ने अपने दोनों बच्चों को घर से बाहर भेज दिया और इस वारदात को अंजाम दिया. घटना तब सामने आई जब आरोपी का नाबालिग बेटा शाम को घर वापस लौटा और उसने अपनी मां को मृत पाया. 15 वर्षीय बालक की शिकायत पर पुलिस ने हल्केराम के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर उसकी गिरफ्तारी के लिए तलाश शुरू कर दी है.

पति शराब पीकर मां से झगड़ा करता था
बच्‍चे ने पुलिस को बताया कि उसका पिता शराब पीकर उसकी मां से अक्सर झगड़ा करता था और इससे पहले भी वह जहर देकर मां को मारने की कोशिश कर चुका है.

रीवा में पत्‍नी ने ऐसा ही अपने पति के साथ किया था
इससे पहले रीवा जिले में मई 2016 को शराब पीकर एक रात को घर वापस लौटने पर संतोष विश्वकर्मा को सबक सिखाने के लिये उसकी पत्नि विजयकांत लक्ष्मी ने उसकी आंख में फेवीक्वीक ग्लू डाल दिया था.