रीवा / सरकारी भूमि में कब्जे के लिए खूनी विवाद, युवक की हत्या, दो दर्जन घायल

BJP नेता समेत परिवार के 5 लोगों की बेरहमी से हत्या, बच गईं 2 बच्चियां

क्राइम

नागपुर। नागपुर में एक ही परिवार के पांच सदस्यों की बेरहमी से हत्या किए जाने का दिल दहला देने वाला सामने आया है। घटना शहर के आराधना नगर की है जहां रहने वाले बीजेपी नेता कमलाकर पवनकर और उनके परिवार के चार अन्य सदस्यों की खून से लथपथ लाशें उनके ही घर में बरामद हुई हैं। घर में एक साथ खून से सनी पांच लाशें मिलने की खबर मिलते ही शहर में सनसनी फैल गई, जिसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की तफ्तीश शुरू की। घर के अंदर का नजारा इतना वीभत्स था कि मौके पर पहुंची पुलिस भी उसे देखकर हैरान रह गई।

नींद में उतारा मौत के घाट

कमलाकर पवनकर और उनकी पत्नी अपने परिवार के साथ घर में सो रहे थे तभी देर रात हमलावर घर में घुसे और एक-एक कर पांच लोगों को बेरहमी से मौत के घाट उतार दिया। हमलावरों ने बारी-बारी से कमलाकर पवनकर, उनकी पत्नी, मां, बेटी और भांजे को मौत की नींद में सुला दिया। घर में कमलाकर की छोटी बेटी मिताली और भांजी वैष्णवी भी मौजूद थे लेकिन वो दूसरे बिस्तर पर सो रही थीं शायद जिसके चलते हमलावरों का ध्यान उन पर नहीं गया और उनकी जान बच गई। घर से पांच लोगों की खून से सनी लाश मिलने से शहर में सनसनी फैल गई है और शहर की कानून व्यवस्था पर भी सवाल उठ रहे हैं।

हमलावरों का सुराग नहीं 

इस जघन्य वारदात की खबर पुलिस को सुबह के वक्त लगी। घटना का पता चलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की तफ्तीश शुरु की। शुरुआती तफ्तीश में पुलिस को शक है कि वारदात को लूट के इरादे से अंजाम दिया गया है और वारदात में किसी करीबी का हाथ हो सकता है। जानकारी के मुताबिक कमलाकर पवनकर घर का इकलौता कमाऊ सदस्य था और अपने परिवार के साथ साथ भांजे और भांजी को भी अपने साथ रखकर उनका भी खर्चा उठा रहा था। हत्याकांड में जिस भांजे की मौत हुई है उसका नाम कृष्णा बताया जा रहा है। वारदात के बाद डॉग स्कवॉड और फॉरेंसिक टीम ने भी घटनास्थल की जांच की है लेकिन अभी तक हत्यारों का कोई सुराग पुलिस को नहीं मिला है। बीते कुछ सालों में ये ऐसी पहली जघन्य वारदात है जब घर में घुसकर पूरे परिवार को मौत की नींद सुलाया गया है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *