15 छात्र और प्राचार्य समेत 2 शिक्षक मिलकर 7 महीने से कर रहे थे छात्रा से गैंगरेप

क्राइम

सारण/छपरा: कड़े कानून के साथ राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री जैसे बड़े पदों पर बैठे लोगों की अपील के बाद भी देशभर में दुष्कर्म जैसे अपराध पर लगाम लगता नहीं दिख रहा है. ताजा मामला बिहार के सारण से आया है, यहां एक निजी स्कूल में पढ़ने वाली 10वीं की छात्रा का शिक्षक और छात्र सात महीने से गैंगरेप कर रहे थे. आरोप है कि सात महीने पहले एक छात्र ने क्लास में ही छात्रा का रेप किया था. लोकलाज के चलते उसने किसी को नहीं बताया, वहीं आरोपी छात्र ने यह बात दूसरे छात्रों को यह बात बता दी. आरोप है कि इसके बाद कई छात्र मिलकर पिछले छह महीने से छात्रा का रेप कर रहे थे.

पुलिस के सामने मामला आने पर प्राचार्य सहित दो शिक्षकों और 2 आरोपी छात्रों को गिरफ्तार कर लिया गया है. फरार 13 आरोपी छात्रों की तलाश में पुलिस दबिश देने में जुटी है. पीड़िता ने एकमा थाना में दिए शिकायत में कहा है कि दिसंबर 2017 में पहली बार एक छात्र ने क्लास में ही उसका रेप किया था. इसके बाद वह ब्लैकमेल करने लगा कि अगर वह दोबारा ऐसा नहीं करने देगी तो वह यह बात पूरे स्कूल में फैला देगा. बदनामी के डर से छात्रा अपनी रेप की बात किसी से नहीं कही. इससे आरोपी छात्र का मनोबल बढ़ गया और वह अपने साथी छात्रों से भी छात्रा का रेप करवाने लगा.

यह बात स्कूल के शिक्षकों तक पहुंची तो उन्होंने आरोपी छात्रों को रोकने के बजाय खुद इसमें शामिल हो गए. एक शिक्षक और प्राचार्य ने भी छात्रा के साथ रेप किया. यह सिलसिला कई महीने से चल रहा था. 15 छात्रों और प्राचार्य सहित दो शिक्षकों से गैंगरेप का दुख छात्रा के लिए असहनीय हो गया था. इसके बाद उसने एकमा थाने में मामले की शिकायत की है, जिसके बाद पुलिस ने चार आरोपी छात्रों को गिरफ्तार कर लिया गया है. बाकी के 13 छात्रों की तलाश जारी है.

13 वर्षीय छात्र ने पिता के साथ शुक्रवार को एकमा थाने में पहुंचकर थानेदार अनुज कुमार सिंह को आपबीती सुनाई. सूचना महिला थाने को देकर छात्र का बयान दर्ज कराया गया. महिला थाना प्रभारी छात्र को अपने साथ जिला मुख्यालय लेकर चली गईं. वहीं छपरा सदर एसडीपीओ अजय कुमार सिंह ने स्कूल के आरोपी प्राचार्य उदय कुमार सिंह, शिक्षक बालाजी और दो छात्रों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया. बाकी 13 आरोपी छात्र फरार हैं. इनकी गिरफ्तारी को पुलिस दबिश दे रही है.