छेड़छाड़ से परेशान होकर नाबालिग ने लगाई फांसी, शिकायत के बाद भी पुलिस ने नहीं की थी कार्रवाई

क्राइम

नई दिल्ली: कन्नौज में एक नाबालिग छात्रा ने छेड़खानी की घटना से तंग आकर खुदकुशी कर ली. मृतका के परिजन अब इंसाफ के लिए दर-दर की ठोकर खा रहे हैं. मामला थाना ठठिया का है. जानकारी के मुताबिक, गांव का ही एक युवक पिछले कई महीनों से रोजाना छात्रा के साथ कॉलेज जाते समय छेड़छाड़ करता था. छात्रा और उसके परिजनों ने इस संबंध में गत 29 अप्रैल को पुलिस में शिकायत भी दर्ज करवाई थी. लेकिन, पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की. इसके बाद मनचले के हौसले और बढ़ गए. तंग आकर छात्रा ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली.

पुलिस ने नहीं की कार्रवाई
मृतका के परिजनों का आरोप है कि शिकायत के बाद जब पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की तो मनचले के हौसले और बढ़ गए और उसने पीड़ित छात्रा के साथ जबरदस्ती शुरू कर दी. परिजनों ने बताया कि जब छात्रा इसका विरोध करती तो वो धमकी देता, जिससे परेशान छात्रा ने आत्महत्या करने की ठान ली और परेशान छात्रा ने घर आकर फांसी लगा ली.

हादसे के वक्त घर में नहीं थे परिजन
मृतका के परिजनों ने बताया कि पीड़िता ने फांसी 23 जून को उस वक्त लगाई. जब वो घर में अकेली थी. मृतका की मां ने बताया कि 23 जून को हम सब खेत में काम करने गए थे. उनकी बेटी घर में अकेली थी. खुद को घर में अकेला पाकर उसने ये कदम उठाया. जैसे ही वो घर में पहुंचे, उन्होंने उसे फांसी पर लटका देखा. आस-पास की लोगों की मदद के बाद छात्रा को नीचे उतारा और अस्पताल में भर्ती कराया.

2 दिन बाद पीड़िता ने तोड़ा दम
मृतका की मां ने बताया कि 23 जून को उसे गंभीर हालत में मेडिकल कालेज तिर्वा में भर्ती कराया गया. जहां से उसे कानपुर के लिए रेफर कर दिया गया. हैलट अस्पताल में पीड़िता ने 25 जून को इलाज के दौरान दम तोड़ दिया है.

पुलिस ने दिया जांच का आश्वासन
वहीं, इस पूरे मामले पर पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है. कन्नौज के एसपी केके राठौड़ का कहना है कि आत्महत्या के कारणों की जांच कर रही है. मृतका के परिजनों ने शिकायत दर्ज कराई हैं. आरोपियों से पूछताछ के बाद कार्रवाई की जाएगी.