बेटी की चाहत थी हुआ बेटा, मां ने ही ले ली 10 माह के बच्चे की जान

क्राइम

महाराष्ट्र के औरंगाबाद में मां की ममता का गला घोंटते हुए एक महिला ने अपने 10 माह के मासूम बेटे की हत्या कर दी. पुलिस ने महिला को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने बताया कि 10 माह के बच्चे का शव घर के बाहर पानी से भरे ड्रम में डूबा मिला.

पुलिस ने बताया कि पूछताछ के दौरान हत्यारिन मां ने बताया कि वह बेटी चाहती थी, लेकिन बेटा होने से दुखी थी. बस इसी के चलते उसने अपने 10 माह के बेटे की हत्या कर दी और उसका शव पानी से भरे ड्रम में छिपा दिया.

पुलिस ने आरोपी महिला के खिलाफ आईपीसी की धारा 302 के तहत केस दर्ज कर लिया है. पुलिस ने बताया कि घटना तीन दिन पुरानी है. तीन दिन पहले बेटे की हत्या करने के बाद महिला ने पुलिस में शिकायत भी दर्ज कराने पहुंच गई.

महिला ने पुलिस से अपने बेटे की गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराई. पुलिस ने केस दर्ज कर जब जांच शुरू की तो यह सनसनीखेज सच्चाई सामने आई. पुलिस को धीरे-धीरे मां पर ही शक होने लगा. आखिरकार पुलिस ने जब महिला के घर की तलाशी ली तो ड्रम से बच्चे का शव मिल गया.

इसके बाद पुलिस ने महिला से सख्ती से पूछताछ की तो उसने अपना जुर्म कुबूल कर लिया. महिला ने बताया कि यह उसका दूसरा बच्चा था. लेकिन दूसरी बार भी जब उसे बेटा हुआ तो वह बेहद दुखी हुई. आखिरकार बेटी की चाहत में उसने अपनी ममता का ही गला घोंट दिया.

महिला ने बताया कि उसे लगा था कि दो बेटे होने के बाद ससुराल वाले आगे बेटी पैदा करने की बात से इनकार कर देंगे. यही सोचकर उसने दूसरे बेटे से छुटकारा पाने का फैसला किया.