शादीशुदा प्रेमी युगल घर से भागकर झूल गए फंदे से

क्राइम

व्यारा।व्यारा तहसील के खोडतलाव गांव में रहने वाले 42 वर्षीय शादीशुदा ने सोनगढ़ तहसील के अमालगुडी की 42 वर्षीय शादीशुदा महिला से प्यार था। पिछले 5 साल से उनके बीच प्यार का यह सिलसिला चल रहा था। परिवार वालों के विरोध के कारण दोनों ने घर से भागकर पहले जहर पीया, उसके बाद दुपट्टे से एक साथ फांसी लगा ली।



रात को ही घर से भाग गए थे…

तापी जिले के व्यारा तहसील के खोडतलाव गांव में बाजार फलिया में रसिक भाई मंछीभाई चौधरी अपने परिवार के साथ मजदूरी करते हुए रहते थे। 5 साल पहले उनकी आंख सोनगढ़ तहसील की आमलगुडी की शादीशुदा महिला शीला बेन से लड़ गई। दोनों के बीच प्यार हो गया। प्यार का यह सिलसिला लगातार 5 साल तक चलता रहा, इस बीच परिवार वालों के विरोध के चलते आखिर दोनों ने इस दुनिया से रुखसत करने का इरादा कर लिया। इसके लिए दोनों ने रात को ही अपना घर छोड़ दिया।

पहले पीया जहर फिर लगाई फांसी

बुधवार की सुबह रसिक भाई और शीलाबेन गामित ने व्यारा तहसील के ऊंचामाला स्थित डुंगरीफलिया पहुंच गए। वहां जाकर पहले दोनों ने जहर पीया, उसके बाद दुपट्टे से फांसी लगा ली। जब उनकी लाश उतारी गई, तो दोनों के मुंह से झाग निकल रहा था, इससे यह पता चला कि मरने के पहले दोनों ने जहर पीया था। रसिकभाई के बेटे ने इसकी सूचना काकरापार पुलिस को दी। पुलिस ने लाशों को पीएम के लिए भेज दिया है, आगे जांच शुरू कर दी है।