7 ऐसी बीमारियां जो कोरोना से भी ज्यादा हैं खतरनाक

महामारियों के महासमुद्र में है विश्व, 7 ऐसी बीमारियां जो कोरोना से भी ज्यादा हैं खतरनाक, हमें रहना होगा सावधान, जाने बीमारियों के….

General Knowledge अन्य

महामारियों के महासमुद्र में है विश्व, 7 ऐसी बीमारियां जो कोरोना से भी ज्यादा हैं खतरनाक, हमें रहना होगा सावधान, जाने बीमारियों के….

कोरोना ने भारत समेत दुनया भर को आपनी चपेट में लेते हुए लाखों को निगल गया। बीमारी आने के बाद दुनिया भर में लाकडाउन हुआ। जिसके सम्बंध में किसी ने सपने में भी नहीं सोचा था। हम देख चुके हैं कि कोरोना महामारी के फेलने पर जीवन की रक्षा के लिए परदेश कमाने गये लोगों ने घर पहुंचना ठीक समझा।

विश्व के कई देश आर्थिक संकट के मुहाने पर खडे हो गये। लेकिन क्या आप जानते है कि इस कोरोना नामक बीमारी भी ज्याद खतरनाक कई और भी बामारियां है जिनकी चपेट में आने के बाद मौत निश्चित हो जाती है। अभी से वैज्ञानिक और मेडिकल एक्सपर्ट्स हमें दूसरे कई बीमारियों से सावधान रहने की सलाह दे रहे हैं। इनकी माने तेा आज पूरा विश्व महामारी के मुहाने पर खड़ा है।

7 चिन्हित बायोलॉजिकल और घातक बीमारियों के बारे में हम जानने का प्रयास करते है:

1-इबोला ( Ebola )

इबोला नामक बीमारी जो अफ्रीका से फैल चुकी है। इसका फैलाव बहुत ही तेजी से होता है। यह बीमारी जानवरों से इंसानों में तथा इंसान से इंसान मे भी फैलती है। इस बीमारी की चपेट में आने के बाद मृत्यु दर काफी ज्यादा है।

यहाँ क्लिक करें : खरीदिये Best सामान AMAZON से

2- लासा फीवर ( lasa Fever )

लासा फीवर एक प्रकार का वायरल इंफेक्शन है। इस बीमारी के चपेट में आने वाला हर पांचवां व्यक्ति किडनी, लिवर तथा स्पलीन पर बुरा असर डालता है। यह दूषित चीजों, मल, मूत्र तथा ब्लड के द्वारा फेलता है। अभी तक इसकी कोई दवाई नही खोजी गई है जबकि अफ्रीका में सैकडों की जांन जा चुकी है।

3-मार्गबर्ग वायरस (Marburg virus)

मार्गबर्ग वायरस डिसीज भी इबोला परिवार के वायरसों में से एक है। यह बेहद समक्रामक होता है। इबोला जैसे ही यह काफी खतरनाक है। इसका पहला प्रकोप साल 2005 में युगांडा में देखा गया था।

4-एमईआरएस-सीओव्ही ( MIRS-COV)

एमईआरएस-सीओव्ही ( MIRS-COV) इसे दि मिडिल ईस्ट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम कहा जाता है। यह भी एक खतरनाक इंफेक्शन में से एक है। वैज्ञानिक मानते है कि अभी भले ही इसका प्रकोप कम है लेकिन आने वाले समय मे यह भी महामारी बन सकता है।

यह भी पढ़े : सेहत से भरपूर है पनीर, शरीर में इस तरह के होते तुरंत लाभ

5-निपाह वायरस

निपाह वायरस को खसरे से जोड़कर देखा जा रहा है। इसका पहला मामला केरल में वर्ष 2018 में देखा गया था। लेकिन इसके लक्षण से वैज्ञानिक चिंतित है। इनका मानना है कि यह दोबारा भी हो सकता है। सर्तक रहने की आवाश्यकता है। तेज सिरदर्द, उल्टी, चक्कर आना जैसे इसके लक्षण हैं।

6- डिसीज एक्स ( Disease X )

डिसीज एक्स के नाम से जानी जाने वाली बीमारी काफी खतरना बीमारियों में से एक है। इसकी चपेट में आने पर लगभग 80 से 90 प्रतिशत रोगियों की मौत निश्चित है। वैज्ञानिको का कहना है कि कांगो में एक महिला को रक्तस्रावी बुखार देखा गया। वैज्ञानिक कहते हैं कि 2021 में एक महामारी के रुप में उभर कर आ सकता है।

7-एसएआरएस

ये वही वायरस परिवार से है। जिसे सीवियर एक्यूट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम कहा जाता इसका पहला मामला चीन में वर्ष 2002 में दर्ज किया गया था। इसकी चपेट में 8 हजार लोग चपेट में आये थे। यह करीब 26 देशों में फेला था।

यह भी पढ़े : गुणो से भरपूर है हरी प्याज, कैंसर को भी देती है मात

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें:

Facebook | WhatsApp | Instagram | Twitter | Telegram | Google News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *