Movement after Rakesh Tikait attack, Mahapanchayat at Ghazipur border ---.jpg

राकेश टिकैत पर हमले के बाद गर्माया आंदोलन, गाजीपुर बॉर्डर पर महापंचायत...

RewaRiyasat.Com
Sandeep Tiwari
04 Apr 2021

नई दिल्ली। किसान नेता राकेश टिकैत पर हमले के बाद एक बार फिर आंदोलन गर्मा गया है। भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष चैधरी नरेश टिकैत के आह्वान पर गाजीपुर बॉर्डर एक बार फिर किसान महापंचायत का साक्षी बनने जा रहा है। किसान आगे की रणनीत पर चर्चा करेगें। रविवार को किसान महापंचायत बुलाई गई है। जिसमें कई खापों के चैधरी शामिल होगें। 

अलवर में हुआ हमला

राकेश टिकैत के काफिले पर अलवर में तातारपुर चैराहे पर हमला हो गया था। इस घटना के बाद से किसानों में काफी रोष है। हमले के बाद पश्चिमी उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव के समीकरण बदल सकते हैं।

विपक्ष देख रहा अपना फायदा

एक ओर किसानो का आंदोलन है तो वहीं यूपी में पंचायत चुनाव भी हैं। जानकारी के अनुसार पश्चिमी उत्तर प्रदेश में किसान आंदोलन का असर तेज हैं। ऐसे मे भाजपा की विरोधी पार्टियां अपना-अपना फायदा देख रही है। लोगों केा लगता कि इस किसान आंदोलन का लाभ उन्हे मिलेगा। 

भाजपा कह रही सब ठीक है

किसान आंदोलन का असर यूपी पंचायत चुनाव में कितना पडेगा यह तो वक्त ही बतायेगा। लेकिन इतने बडे विरोध के बाद भी भाजपा का कहना है कि चिंता की कोई बात नहीं है सब ठीक है। 

अन्य प्रदेशों से आयेगे किसान

जानकारी के अनुसार किसान आंदोलन को समर्थन देने के लिए भारत के दूसरे प्रांतों से किसान पहुंच रहे हैं। जानकारी के अनुसार वहीं शनिवार को किसानों को समर्थन देने के लिए कर्नाटक और तमिलनाडु से भी कुछ किसान पहुंचें। वह सभी राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत मुलाकात करेंगे। वही अन्य किसान रविवार सुबह यूपी गेट पर पहुंचकर आंदोलन में शामिल होंगे। 
 

SIGN UP FOR A NEWSLETTER