राष्ट्रीय

लेडी डॉन अनुराधा चौधरी गिरफ्तार, गैंगस्टर आनंदपाल के एनकाउंटर के बाद काला जेठड़ी का गैंग ऑपरेट कर रही थी, 7 लाख का इनामी जेठड़ी भी पकड़ा गया

Aaryan Dwivedi
31 July 2021 5:23 PM GMT
लेडी डॉन अनुराधा चौधरी गिरफ्तार, गैंगस्टर आनंदपाल के एनकाउंटर के बाद काला जेठड़ी का गैंग ऑपरेट कर रही थी, 7 लाख का इनामी जेठड़ी भी पकड़ा गया
x
राजस्थान की लेडी डॉन अनुराधा चौधरी और मोस्ट वांटेड गैंगस्टर काला जेठड़ी को दिल्ली पुलिस की स्पेशल टीम ने गिरफ्तार कर लिया है. गैंगस्टर आनंदपाल के एनकाउंटर के बाद अनुराधा चौधरी काला जेठड़ी गैंग (Kala Jethri Gang) से जुड़कर काले धंधे को ऑपरेट कर रही थी. जेठड़ी और अनुराधा उत्तराखंड से लौट रहें थे, दोनों को स्पेशल टीम ने यूपी के सहारनपुर से पिस्टल और रिवाल्वर के साथ गिरफ्तार कर लिया है. 

राजस्थान की लेडी डॉन अनुराधा चौधरी और मोस्ट वांटेड गैंगस्टर काला जेठड़ी को दिल्ली पुलिस की स्पेशल टीम ने गिरफ्तार कर लिया है. गैंगस्टर आनंदपाल के एनकाउंटर के बाद अनुराधा चौधरी काला जेठड़ी गैंग (Kala Jethri Gang) से जुड़कर काले धंधे को ऑपरेट कर रही थी. जेठड़ी और अनुराधा उत्तराखंड से लौट रहें थे, दोनों को स्पेशल टीम ने यूपी के सहारनपुर से पिस्टल और रिवाल्वर के साथ गिरफ्तार कर लिया है.

जेठड़ी पर 7 लाख का इनाम था. उस पर दिल्ली, पंजाब, हरियाणा और राजस्थान में कई मामले दर्ज हैं. 9 माह से अनुराधा जेठडी के साथ लिव इन रिलेशनशिप में रह रही थी. और उसके पूरे गैंग को ऑपरेट करती थी.

गैंगस्टर आनंदपाल की गर्लफ्रेंड थी अनुराधा

लेडी डॉन अनुराधा चौधरी (Lady Don Anuradha Choudhary) इसके पहले राजस्थान के गैंगस्टर आनंदपाल (gangster anandpal) के लिए काम करती थी. वह गैंगस्टर आनंदपाल की गर्लफ्रेंड थी, आनंदपाल का पूरा नेटवर्क और गैंग अनुराधा ही सम्हालती थी. इसी दौरान वह सुर्ख़ियों में आई थी. आनंदपाल के एनकाउंटर के बाद से वह फरार थी. फरारी के दौरान लॉरेंस विश्नोई (Lawrence Bishnoi) की मदद से अनुराधा की मुलाकात काला जठेड़ी से हुई.

काला जेठड़ी करता था विश्नोई गैंग को ऑपरेट

विश्नोई गैंग (Vishnoi Gang) रंगदारी, फिरौती, लूट और हत्या की वारदातों को लम्बे समय तक अंजाम देता रहा है. लॉरेंस विश्नोई इसका मुखिया माना जाता है. इसके पहले इस गैंग को थाईलैंड से राजू बसौदी (Raju Basaudi) द्वारा चलाया जाता रहा है. राजू बसौड़ी को हरियाणा एसटीएफ (Haryana STF) द्वारा वहां से डिपोर्ट कर गिरफ्तार कर लिया गया. इसके बाद विश्नोई भी गिरफ्तार हो गया. तब विश्नोई गैंग को काला जेठड़ी चलाने लगा था और अनुराधा चौधरी इसी गैंग को ऑपरेट करती थी.

पति के साथ शेयर मार्केट का काम करती थी अनुराधा

लेडी डॉन अनुराधा चौधरी अपने पति के साथ शेयर मार्केट का काम करती थी. शेयर ट्रेडिंग का धंधा चौपट होने से अनुराधा कर्ज में डूब गई और इसी के चलते उसने जुर्म की दुनिया में कदम रखा. लेनदारी का दबाव बढ़ने लगा तो अनुराधा कुख्यात गैंगस्टर आनंदपाल के साथ जुड़ गई. आनंदपाल के साथ नाम जुड़ने के बाद अनुराधा से कोई भी पैसे वापस मांगने का दबाव नहीं बना पाता था. इसके बाद से वह जुर्म की दुनिया की लेडी डॉन बन गई और अब जाकर वह पुलिस के हाँथ आई है.

अनुराधा पर लूट, किडनैपिंग, रंगदारी समेत कई मामले दर्ज

अनुराधा का जन्म राजस्थान के सीकर जिले में हुआ था. अनुराधा पर लूट, किडनैपिंग, रंगदारी मांगने समेत कई गंभीर अपराध दर्ज हैं. डॉन अनुराधा को 2016 में नागौर जिले की अदालत ने 2 साल की सजा सुनाई थी. साथ ही 20 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया.

Next Story
Share it