राष्ट्रीय

13 राज्यों को अलर्ट जारी, कर्नाटक के एक कॉलेज के 66 छात्र पॉजिटिव, 2 हॉस्टल सील, 400 छात्रों का हुआ कोरोना टेस्ट

Sandeep Tiwari
25 Nov 2021 1:52 PM GMT
Corona spread in Russia more than 39849 cases were reported 1163 people died
x
कर्नाटक के एक कालेज में 66 छात्रों का एक साथ पाजिटिव आना बताया जा रहा है। कालेज के सभी 400 छात्रों का टेस्ट किया गया है। जिसमें करीब 100 लोगों की रिपोर्ट आना शेष है।

कर्नाटक। कोरोना वायरस (CORONAVIRUS) जिसका नाम सुनते ही सरकार तथा आमजन की धड़कने तेज हो जाती हैं। लेकिन एक बार फिर कोविड (COVID-19) के मामले देश में सामने आने लगे हैं। जिसके बाद केन्द्र सरकार अलर्ट मोड में आ गया है, सरकार ने 13 राज्यों को अलर्ट जारी किया है। राज्यों को कोरोना जांच बढ़ने के लिए कहा गया है। वहीं कोरोना गाइडलाइन का पालन न करने वालों पर एक बार फिर कार्रवाई का चाबुक चलना तय कर दिया गया है। यह सब कर्नाटक के एक कालेज में 66 छात्रों का एक साथ पॉजिटिव आना बताया जा रहा है। कालेज के सभी 400 छात्रों का टेस्ट किया गया है। जिसमें करीब 100 लोगों की रिपोर्ट आना शेष है।

एक सप्ताह पूर्व कालेज में हुआ था प्रोग्राम

कर्नाटक के धारवाड़ के एसडीएम मेडिकल कॉलेज में करीब एक सप्ताह पूर्व कुछ छात्रों द्वारा एक सामूहिक कार्यक्रम आयोजित किया गया था। यह जानकारी धारवाड़ के डिप्टी कमिश्नर नितेश पाटिल ने देते हुए बताया कि इसमें काफी छात्र एकत्र हुए थे।

लगवा चुके हैं वैक्सीन के दोनो डोज

सबसे बड़ी बात यह है कि कर्नाटक में पॉजिटिव आये लगभग सभी 66 छात्रों ने कोरोना वैक्सीन के दोनो डोज लगवा चुके हैं। हलांकि सभी छात्रों में सामान्य लक्ष्ण पाये गये हैं। वहीं छात्रों के सम्पर्क में आये लोगों की लिस्ट तैयार कर उनकी भी जांच करवाने की तैयारी की जा रही है।

कोरोना की तीसरी लहर की आशंका

धीमी गति से ही सही कोरोना के सामने आ रहे मामले कहीं तीसरी लहर की ओर तो इसारा नहीं कर रही हैं। क्योकि पूर्व में भी कोरोना ने इसी तरह दसतक दी थी। कोरोना की दो लहर का सामना कर चुकी देश की जनता अब तीसरी लहर के आने पर अपने को असुरक्षित महशूस कर रही है। इसी बीच महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा है कि दिसम्बर के महीने में कोरेना की तीसरी लहर आ सकती है।

राज्यों को पत्र जारी

देश में कोरोना के समाने आ रहे मामलों को देखते हुए केन्द्र सरकार की ओर से 13 राज्यों को पत्र लिखा है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से पत्र जारी करते हुए स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा है कि अगर टेस्टिंग में कमी की गई तो संक्रमण का सही आकलन नहीं किया जा सकेगा। जिससे स्थिति नियंत्रित करने के काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है।

इन 13 राज्यों को किया अलर्ट

जारी पत्र में कहा गया बंगाल सहित गोवा, जम्मू और कश्मीर, केरल, लद्दाख, महाराष्ट्र, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नगालैंड, पंजाब, राजस्थान और सिक्किम में पॉजिटिविटी रेट बढ़ रहा है। ऐसे में यहां की सरकारों को एंटीजन टेस्ट की जगह आटी-पीसीआर टेस्ट पर ज्यादा ध्यान देने की जरूरत है।

Next Story
Share it